मध्य प्रदेश: कमलनाथ ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, जुटे विपक्ष के नेता

भोपाल। कमलनाथ ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ले ली है। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कमलनाथ को राज्य के 18वें मुख्यमंत्री के तौर पर पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।

इस अवसर पर भोपाल के लाल परेड मैदान में आयोजित कार्यक्रम में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, राज्य के पूर्व सीएम शिवराज सिंह के अलावा राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट, ज्योतिरादित्य सिंधिया, वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के अलावा विपक्ष के नेताओं में एनसीपी नेता शरद पवार, नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता फारूक अब्दुल्ला, आंध्रप्रदेश के सीएम चंद्र्बाबू नायडू, डीएमके नेता स्टालिन,लोकतांत्रित जनता दल के शरद यादव मौजूद रहे।

कमलनाथ छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र से लगातार नौ बार सांसद चुने गए हैं। 1979 में प्रथम बार छिंदवाड़ा से निर्वाचित हुए, उसके बाद लगातार 1984, 1990, 1991, 1998, 1999, 2004, 2009, 2014 में लोकसभा के लिए निर्वाचित होते रहे हैं।

इस कार्यक्रम में सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती के शामिल होने की संभावना जताई गयी थी लेकिन बे अंतिम समय तक इस कार्यक्रम में नहीं पहुंचे । सपा बसपा के कार्यक्रम से दूरी बनाये जाने को विपक्ष की एकता को झटका माना जा रहा है।

हालाँकि इस कार्यक्रम में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी भी शामिल नहीं हुईं लेकिन पार्टी सूत्रों की माने तो ममता बनर्जी ने अपनी व्यस्तता के चलते कल ही यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी को अपने न आने के कारण से अवगत करा दिया था।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें
loading...