भीम आर्मी चीफ से मुलाकात के बाद प्रियंका ने दिया ये बड़ा बयान

मेरठ। मेरठ के अस्पताल में भर्ती भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर को देखने पहुंची कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि योगी सरकार चंद्रशेखर की आवाज कुचलना चाहती है। नौजवान की आवाज दबाई जा रही है। योगी सरकार अहंकारी हो गई है।

मौके पर पहुंचे पत्रकारों द्वारा जब इस मुलाकात के राजनैतिक मायनो को लेकर प्रियंका गांधी से सवाल पूछे तो उन्होंने कहा कि आप चाहें तो इस मुलाकात के राजनैतिक मायने निकाल सकते हैं लेकिन मैं नहीं निकालूंगी।

उन्होंने पत्रकारों से कहा कि वे बाहर ही रुकने के लिए कहा और भीम आर्मी चीफ से मुलाकात की। मुलाक़ात के बाद प्रियंका गांधी ने कहा कि मुझे इस लड़के का संघर्ष पसंद आया। प्रियंका गांधी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया और राजबब्बर की मौजूदगी में भीम आर्मी चीफ से बंद कमरे में बातचीत की।

वहीँ इससे पहले स्थानीय प्रशासन के उस समय हाथ पैर फूल गए जब उन्हें अचानक जानकारी मिली कि कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी, ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर मेरठ पहुँच रहे हैं। जानकारी मिलते ही हरकत में आये पुलिस आलाअधिकारीयों ने अस्पताल जाने वाले मार्ग से लेकर अस्पताल तक सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से अतिरिक्त पुलिस कर्मियों को तैनात किया।

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर के हालचाल जानने के बाद कांग्रेस नेता मेरठ के भूसा मंडी मछेरान इलाके में पीड़ितों से मिलेंगे। इस दृष्टि से प्रशासन ने सुरक्षा को ध्यान में रखकर भूसा मंडी मछेरान इलाके में भी फ़ोर्स तैनात की है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें
loading...