बुलंदशहर में पुलिस और भीड़ में झड़प, एक पुलिस कर्मी की मौत

बुलंदशहर। गौकशी और बूचड़ खानो का विरोध करने सड़को पर उतरे हिंदू संगठनो के लोगों और पुलिस के बीच हुई झड़प उस समय बेहद गंभीर दौर में पहुँच गयी जब इस झड़प में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की मौत हो गयी।

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर के मुताबिक इस घटना में दो लोगों की मौत हुई इनमे एक पुलिस अधिकारी और एक ग्रामीण शामिल हैं। फ़िलहाल हालत कंट्रोल में बताये जाते हैं। इलाके में भारी तादाद में पुलिस फ़ोर्स तैनात किया गया है।

हिंसा सोमवार सुबह तब शुरू हुई जब गांव में 25 पशुओं के शव मिले. लोगों का आरोप था ये गांव के ही दूसरे समुदाय के लोगों ने गोकशी की है। इसके बाद वहां तनाव को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई।

इसके बाद हालात तब बेकाबू हो गए जब भीड़ ने पुलिसवालों पर पथराव शुरू कर दिया और पुलिस चौकी को आग लगा दी और गाड़ियों में आगजनी की। खबरों के मुताबिक पुलिस ने हवा में फ़ायरिंग की और लाठीचार्ज भी किया लेकिन हालात काबू में नहीं आए।

इस घटना में बुलंदशहर के सयाना थाना क्षेत्र में भीड़ के पथराव में घायल इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की मौत हो गई जबकि एक कॉन्स्टेबल बुरी तरह ज़ख्मी है।

वहीँ स्थानीय लोगों की माने तो व्हाट्सअप पर एक वीडियो वायरल किये जाने के बाद मामला गरमाया था। इस वीडियो में कुछ जानवरो के शवों को दिखाया गया था और दवा किया गया था कि ये गौकशी की गयी है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें