बुलंदशहर के पूर्व सांसद और सपा नेता कमलेश वाल्मीकि की संदिग्ध मौत

बुलंदशहर। पूर्व सांसद और सपा नेता कमलेश वाल्मीकि की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के बाद माहौल गर्म हो गया है। पुलिस के मुताबिक प्रथम दृष्टया यह मामला ज़हर से हुई मौत का प्रतीत होता है। कमलेश वाल्मीकि 54 वर्ष के थे। वे वर्ष 2009 में बुलंदशहर से समाजवादी पार्टी के सांसद रहे थे।

खुर्जा पुलिस के मुताबिक कमलेश वाल्मीकि का शव जिस घर में मिला वह अंदर से बंद था। इसे किसी तरह उनके परिवार के 4 सदस्यों ने खोला। जिस कमरे में कमलेश वाल्मीकि की लाश मिली उसमे लोहे का दरवाज़ा लगा हुआ था। वह भी अंदर से बंद मिला है।

पूर्व सांसद के परिजनो ने ही इस गेट को किसी तरह खोला। कमरे का दरवाज़ा खोलने के बाद वहां कमलेश वाल्मीकि की मौत के बारे में पता चला। परिजनों के मुताबिक कमलेश वाल्मीकि शनिवार रात को करीब साढ़े दस बजे पिलखुआ से वापस लौटे थे। वे जिस कमरे में सोये थे उसका दरवाज़ा रविवार को भी वे अपने कमरे से बाहर नहीं निकले।

सोमवार शाम को जब उनका भतीजा ललित और परिवार के सदस्य उनके घर पर पहुंचे। दोनों मुख्य दरवाजे अंदर से बंद थे तो उन्होंने दरवाज़ा बजाया लेकिन अंदर से कोई जबाव नहीं मिला।

कई बार दरवाजा बजाने के बाद भी कोई जबाव नहीं मिलने पर संदेह हुआ तो परिजनों ने किसी तरह कमरे में लगा लोहे का गेट खोला। कमरे में पूर्व सांसद कमलेश वाल्मीकि का शव मिला। उनका चेहरा नीला पड़ा था लेकिन शरीर पर कोई चोट का निशान नहीं मिला।

पुलिस के मुताबिक शव का पोस्टमार्टम कराया गया है और इसमें सभी एंगिलो से जांच की जा रही है। प्रथम दृष्टया यह मामला ज़हर खाने या खिलाने से हुई मौत का लगता है। घटना वाली जगह की वीडियो ग्राफ़ी भी कराई गयी है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें