बीजेपी सांसद ने ही निकाली सरकार के दावो की हवा, कहा ‘4साल में बहुजन का नही हुआ भला’

नई दिल्ली। केंद्र की मोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर जहाँ बीजेपी सरकार की उपलब्धियां गिनाकर सरकार को सफल बता रही है वहीँ विपक्ष मोदी सरकार के चार साल के कार्यकाल को फ्लॉप शो करार दे रहा है।

इस बीच मोदी सरकार द्वारा मनाये जा रहे चार साल के शासनकाल के जश्न का मजा उन्ही की पार्टी की एक सांसद ने किरकिरा कर दिया है। बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले ने कहा कि मोदी सरकार के चार साल के कार्यकाल के दौरान बहुजन समाज के लिए कुछ नही हुआ है।

बीजेपी सांसद ने कहा कि जब तक भारत का संविधान पूरी तरह से लागू नहीं होगा, तब तक नहीं होगा बहुजन समाज का उत्थान नहीं हो पाएगा। सावित्री बाई फुले ने कहा कि बहुजन समाज और अनुसूचित जाति के लोग आज भी रेलवे लाइन के किनारे झोपड़ी डाल कर रह रहे हैं और दूसरों की गुलामी करने को मजबूर हैं।

उन्होंने कहा कि बहुजन समाज की स्थिति आज भी बहुत दयनीय है। जगह जगह बाबा साहब की प्रतिमाए तोड़ी जा रही हैं, प्रतिमा तोड़ने वालो की गिरफ्तारी भी नहीं हो रही है। जो इसका विरोध करते हैं, उन्हीं को जेल भेजा जा रहा है। इन घटनाओं से बहुजन समाज पूरी तरह से आहत है।

केंद्र में झूठ की सरकार : कांग्रेस

भाजपा की अगुवाई वाली केंद्र सरकार के 4 साल पूरे होने पर कांग्रेस ने निशाना साधा है.पार्टी ने कहा कि मोदी सरकार दलितों, कमजोरों, वंचितों के लिए काल साबित हो रही है।

कांग्रेस के प्रभारी महासचिव अशोक गहलोत ने कहा कि मोदी सरकार के चार साल के कार्यकाल में नफरत और घृणा के माहौल के चलते ही अत्याचार बढ़ रहा है। क्या इसे नीयत में खोट नहीं कहते?.

उन्होंने कहा कि जन धन के नाम पर खुले लोगों के खाते आज भी ठन-ठन हैं, क्योंकि लोगों के पास इनमें पैसे डालने के लिए भी पैसे नहीं हैं। स्टार्ट-अप की गाड़ी का इंजन स्टार्ट होते ही बंद हो गया या कहें कि फेल हो गया।

गहलोत ने कहा कि जब पढ़-लिख कर काबिल बनेंगे तभी तो अच्छी नौकरी मिलेगी; क्या मोदी सरकार ने बेरोजगार को कम करने का ये नया फार्मूला निकाला है? कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने कहा कि पिछले चार वर्षों में देश में डर का माहौल पैदा हुआ है। पीएम मोदी ने लोगों के साथ विश्वासघात किया है और उन्होंने प्रधानमंत्री पद की गरिमा को गिराया है।

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी लोगों को गुमराह करते हैं. वे झूठ बोलते हैं.वे बिजली पहुंचाने के मामले में भी झूठ बोल रहे हैं.केंद्र में झूठ की सरकार है। उन्होंने कहा कि देश में करीब 6 लाख गांव हैं, यदि 18 हजार गांवों में मोदी जी ने बिजली पहुंचाई तो फिर 5 लाख 82 हजार गांवों में बिजली किसने पहुंचाई? पीएम झूठ बोलने की हदें पार कर चुके हैं।

राष्ट्रीय सुरक्षा ऐसा क्षेत्र है जिस पर प्रधानमंत्री ने चुनाव प्रचार के समय काफी सारी बातें की और उनको इसके नाम पर सबसे ज्यादा वोट भी मिले, लेकिन राष्ट्रीय सुरक्षा की रक्षा कर पाने में वो कामयाब नहीं रहे। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में बोलने की आज़ादी, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता नहीं है. मीडिया के लोग सुरक्षित नहीं हैं। मोदी राज में कोई भी सुरक्षित नहीं है।

सफ़ेद झूठ वाली सरकार: मायावती

बसपा सुप्रीमो मायावती ने मोदी सरकार के चार साल के कार्यकाल पर अपनी टिप्पणी में कहा है कि यह सरकार हर मोर्चे पर फेल हो गई है। पीएम मोदी अपने हर कदम को ऐतिहासिक बताते हैं। उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतें भी अपनी ऊंचाई पर हैं।

मायावती ने कहा कि इनकी चोरी और ऊपर से सीनाजोरी भी ऐतिहासिक है। बीएसपी सुप्रीम ने कहा कि बीजेपी और पीएम मोदी ने सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करके विरोधियों को कमजोर करने की कोशिश की है।

बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि मोदी सरकार को 4 साल का जश्न मनाने का कोई अधिकार नहीं है. यह सरकार सफेद झूठ बोलती है। 4 साल पूरे हो गए हैं, लेकिन यह साफ है कि गरीबी, बेरोजगारी, किसान, के मुद्दे, महंगाई के मोर्चे पर यह सरकार ऐतिहासिक रूप से फेल हुई है। जनता हिंसा और तनाव का सामना कर रही है। यह उनके इतिहास का हिस्सा होगा. दलित, पिछड़े और मुस्लिम रोज हिंसा का सामना कर रहे हैं।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *