बीजेपी के हाथ से खिसका कर्नाटक, कांग्रेस जेडीएस में हुई डील

नई दिल्ली: कर्नाटक विधानसभा चुनावो के ताजा रुझानो में बीजेपी बहुमत हासिल करने से दूर पिछड़ती जा रही है. वहीँ राज्य में बीजेपी को सत्ता से रोकने के लिए कांग्रेस और जनता दल सेकुलर में डील फायनल हो गयी है.

सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस जनता दल सेकुलर को बाहर से समर्थन देगी . इतना ही नही कांग्रेस ने बदले हालातो के तहत जनता दल सेकुलर को राज्य में सरकार बनाने के लिए पूर्ण सहयोग देने का वादा भी किया है .

सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस और जेडीएस अंतिम परिणाम आने तक हालातो का आंकलन करेंगे और यदि सच में बीजेपी बहुमत से चूकी तो एच डी देवगौड़ा के पुत्र कुमार स्वामी कर्नाटक में कांग्रेस के समर्थन से सीएम बनेगे.

सूत्रों के मुताबिक कर्नाटक में बीजेपी को सत्ता से रोकने के लिए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अहम भूमिका अदा की है. सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस नेता सोनिया गांधी ने एचडी देवेगौड़ा से बात की है और वह एचडी कुमारस्वामी को कांग्रेस मुख्यमंत्री बनाने के लिये तैयार है. वहीं एक दलित उपमुख्यमंत्री बनाने की बात हो रही है.

ताजा रुझानो के अनुसार बीजेपी 104 सीटों पर बढ़त बनाए हुए हैं और उसे बहुमत के लिए ज़रूरी 9 सीटों के दरकार है. ऐसे में यदि बीजेपी जेडीएस के समर्थन के बिना सरकार नही बना सकती.

अब तक 52 सीटों के चुनाव परिणाम आ चुके हैं. जिसमें बीजेपी 37, कांग्रेस 10, जेडीएस 4, केपीजेपी एक सीट पर चुनाव जीत चुके हैं. वहीं बीजेपी 67, कांग्रेस-63 जेडीएस-35 और निर्दलीय एक सीट पर आगे चल रही हैं

फिलहाल सभी की नज़रें चुनाव परिणामो पर लगी हैं. रुझानो में लगातार हो रहे उलट पुलट को देखते हुए अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी .सुबह 11 बजे के लगभग बीजेपी बहुमत से 7 सीटें अधिक लेकर 121 सीटों तक पहुँच गयी थी लेकिन जैसे ही मतगणना का काम आगे बढ़ा, उसके कई उम्मीदवार पिछड़ गए.

वहीँ अब तेजी से बदले राजनैतिक घटनाक्रम के बाद कर्नाटक में बीजेपी के हाथ से सत्ता की डोर खिसकती दिखाई दे रही है. कांग्रेस और जेडीएस की डील पर बीजेपी के सीएम पद के दावेदार बीएस येदियुरप्‍पा ने कहा कि, “मैं भारतीय जनता पार्टी को यह जनादेश देने के लिए कर्नाटक के लोगों को धन्‍यवाद देता हूं. कांग्रेस पिछले दरवाजे से सत्ता में आना चाहती है, लोग इसे बर्दाश्‍त नहीं करेंगे.” .

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *