बड़ी खबर

बीजेपी के लोगों ने साजिश के तहत गैर हिंदू रजिस्टर में लिखा मेरा नाम: राहुल गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कल सोमनाथ मंदिर में गैर हिन्दू रजिस्टर पर हस्ताक्षर किये जाने के मामले से पर्दा हटाते हुए कहा कि उन्होंने सिर्फ मंदिर की विजिटर्स बुक में साइन किये थे।

गुजरात के अमरेली में व्यापारियों के साथ एक बैठक में राहुल ने बीजेपी की साजिश को बेपर्दा करते हुए कहा कि सोमनाथ मंदिर में मैंने सिर्फ विजिटर्स बुक में दस्तखत किए थे। दूसरे रजिस्टर में बीजेपी के लोगों ने मेरा नाम लिखा।

उन्होंने कहा कि मेरी दादी और मेरा परिवार शिवभक्त हैं, लेकिन हम ये पब्लिक में नहीं बोलते। राहुल ने कहा कि न हम धर्म पर राजनीति नहीं करते हैं और न ही धर्म की दलाली करते हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि सरदार पटेल से पडित जवाहर लाल नेहरू के रिश्तो को लेकर झूठ फैलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल और नेहरू दोस्त थे, भले ही उनके बीच राजनीतिक मतभेद हो सकते हैं लेकिन यहां झूठ फैलाया गया है कि दोनों दुश्मन थे। राहुल गांधी ने साफ-साफ शब्दों में कहा कि सरदार पटेल आरएसएस के विरोधी थे।

बता दें कि कल बीजेपी की सोशल मीडिया टीम ने एक स्क्रीनशॉट शेयर कर ये दावा किया था कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा सोमनाथ मंदिर में दर्शन करने से पहले गैर हिन्दुओं वाले रजिस्टर में हस्ताक्षर किये थे।

बीजेपी के दावे के बाद सोशल मीडिया पर राहुल गांधी और अहमद पटेल के हस्ताक्षरों वाली एक तस्वीर को बीजेपी की सोशल मीडिया टीम वायरल होने लगी । सवाल यही किया जा रहा है कि राहुल गांधी खुद को हिन्दू नहीं मानते तो वे कौन सा धर्म मानते हैं।

सबसे बड़ा सवाल यही था कि राहुल पहली बात सोमनाथ नहीं गए हैं। इतनी बड़ी चूक उनसे कैसे हो सकती है ? जानकारी के अनुसार मंदिर में दो रजिस्टर रखे होते हैं। इनमे से एक रजिस्टर हिन्दू दर्शनार्थियों के लिए और दूसरा रजिस्टर गैर हिन्दू दर्शनार्थियों के लिए रखा होता है।

जब भी मंदिर में कोई दर्शन करने पहुँचता है तो उसे एक रजिस्टर में साइन करने होते हैं। यदि दर्शनार्थी हिन्दू है तो उसे हिन्दू रजिस्टर में यदि गैर हिन्दू है तो उसे गैर हिन्दू वाले रजिस्टर में साइन कराये जाते हैं। रजिस्टर के बारे में जानकारी देने काम मंदिर का स्टाफ करता है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Facebook

Copyright © 2017 Lokbharat.in, Managed by Live Media Network

To Top