बहुमत के करीब कांग्रेस, कमलनाथ ने राज्यपाल से माँगा समय

भोपाल ब्यूरो। मध्य प्रदेश मतगणना के बीच प्रदेश में सरकार बनाने की कवायद तेज हो गयी हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने राज्यपाल आंनदीबेन पटेल को पत्र लिखकर नई सरकार के लिए दावा पेश करने के लिए समय माँगा है।

हालाँकि राजभवन की तरफ से यह कहा गया है कि सभी परिणाम घोषित होने के बाद ही किसी को समय दिया जाएगा। वहीँ बीजेपी ने कमलनाथ द्वारा राज्यपाल को पत्र लिखकर समय मांगे जाने को हड़बड़ी बताया है।

मध्य प्रदेश में 28 नवंबर को हुए विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना का काम देर रात तक जारी है। ताज़ा रुझानों के मुताबिक कांग्रेस 114 सीटें जीत चुकी है और उसके 01 उम्मीदवार आगे चल रहे हैं। वहीँ बीजेपी 106 सीटें जीत चुकी है और 2 सीटों पर उसके उम्मीदवार आगे चल रहे हैं। वहीँ बहुजन समाज पार्टी 2 सीट तथा समाजवादी पार्टी 1 सीट पर विजयी हुई है।

मध्य प्रदेश की 230 सदस्यों वाली विधानसभा में बहुमत के लिए 116 सीटों की आवश्यकता है। वहीँ कांग्रेस और बीजेपी दोनों के पास यह जादुई आंकड़ा नहीं है। ऐसे में बसपा के दो और सपा के एक सदस्य को मिलाकर कांग्रेस के पास बहुमत से 02 सीट अधिक हो सकती है।

फ़िलहाल देखना है कि राज्यपाल आनंदीबेन पटेल राज्य में नई सरकार के गठन के लिए किसे पहले बुलाती है। जहाँ तक सबसे बड़े दल का सवाल है तो कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभर कर सामने आयी है। उसके पास सदस्यों की संख्या 115 तक हो सकती है। ऐसी स्थति में संवैधानिक नियमनुसार राज्यपाल कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित कर सकती हैं।

हालाँकि अभी तक अंतिम परिणाम ज़ाहिर नहीं हुए हैं और कुछ निर्वाचन क्षेत्रो में रात 01 बजे के बाद भी मतगणना का काम चल रहा था। इसलिए पूरी तस्वीर साफ़ होने में कुछ समय और लग सकता है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें