फूलपुर से प्रियंका गांधी को उम्मीदवार बनाये जाने की चर्चा, जिला कांग्रेस ने भेजा प्रस्ताव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की फूलपुर लोकसभा सीट के लिए होंने जा रहे उपचुनाव में कांग्रेस की तरफ से प्रियंका गांधी को उम्मीदवार बनाये जाने की चर्चाओं के बीच इलाहबाद जिला कांग्रेस कमेटी ने प्रियंका गांधी को उम्मीदवार बनाये जाने का प्रस्ताव पास कर प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भेजा है।

इलाहाबाद कांग्रेस कमेटी के प्रस्ताव पर पार्टी हाईकमान को फैसला लेना है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि प्रियंका गांधी के चुनाव लड़ने से कांग्रेस की जीत पक्की है। साथ ही प्रदेश में कांग्रेस मजबूती के साथ वापसी करेगी।

हालाँकि प्रियंका गांधी के नाम को लेकर उत्तर प्रदेश में पहले भी कयासों का बाज़ार गर्म रहा है लेकिन स्वयं प्रियंका भी सक्रीय राजनीति में आने से इंकार करती रही हैं। अब देखना है कि फूलपुर से लोकसभा उपचुनाव में प्रियंका गांधी को उम्मीदवार बनाये जाने की कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मांग पर इस बार हाईकमान का क्या निर्णय रहता है।

बता दें कि फूलपुर कभी कांग्रेस की परम्परागत सीट हुआ करती थी। यहाँ से कभी भारत के पूर्व प्रधानमंत्री स्व जवाहर लाल नेहरू चुनाव लड़ा करते थे। वे इस सीट से लगातार तीन बार 1952, 1957 और 1962 में चुनाव जीते। जवाहरलाल नेहरू के पश्चात नेहरू परिवार से सम्बन्ध रखने वाली विजय लक्ष्मी पंडित इस सीट से 1964(उपचुनाव) और 1967 में चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंची। 1971 में पूर्व प्रधानमंत्री राजा विश्वनाथ प्रताप सिंह भी फूलपुर सीट पर ही लोकसभा चुनाव जीते थे।

इसके बाद अधिकांश समय गैर कोंग्रेसी दलो का कब्ज़ा रहा है। 1977 से 2014 तक यहाँ सिर्फ 1984 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार रामपूजन पटेल ने विजय हासिल की थी। उसके बाद वे अगला चुनाव जनता दल के टिकिट पर लड़े थे। इस सीट पर रामपूजन पटेल लगातार 1984, 1989, और1991 में जनता दल के टिकिट पर चुनाव जीते।

1996 में इस सीट पर समाजवादी पार्टी ने कब्ज़ा कर लिया। इस सीट पर समाजवादी पार्टी ने लगातार 1996,1998, 1999 और 2004 के लोकसभा चुनाव में विजय हासिल की। लेकिन 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार केशव प्रसाद मौर्या ने बड़े अंतर् से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार को पराजित कर सीट अपने कब्ज़े में कर ली।

Share

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें