फूलपुर, गोरखपुर में कम मतदान से सहमी बीजेपी

लखनऊ ब्यूरो। उत्तर प्रदेश की दो लोकसभा सीटों फूलपुर और गोरखपुर में आज हुए उपचुनाव में मतदान का प्रतिशत उम्मीद के मुताबिक नहीं रहने के बाद राजनैतिक दलों की माथा पच्ची शुरू हो गयी है।

गोरखपुर में 47.45 फीसदी और फूलपुर में 37.40 फीसदी मतदान हुआ। इससे पहले राजनैतिक दलों द्वारा दोनों सीटों पर बम्पर मतदान होने के कयास लगाए जा रहे थे।

फूलपुर लोकसभा सीट पर शहरी क्षेत्रों में परंपरागत तौर पर मतदान का प्रतिशत पिछले चुनाव में भी कम ही रहा। पांच विधानसभा क्षेत्रों वाले इस संसदीय क्षेत्र में फूलपुर में 46.32 प्रतिशत, सोरांव में 45 प्रतिशत, फाफामऊ में 43 प्रतिशत, इलाहाबाद पश्चिम में 31 प्रतिशत और इलाहाबाद उत्तर में 21.65 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया।

बीजेपी सूत्रों की माने तो कम मतदान से पार्टी को नुकसान होने की सम्भावना से इंकार नहीं किया जा सकता। हालाँकि सीएम योगी आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने दोनों लोकसभा सीटों पर बीजेपी की जीत के दावे अवश्य किये।

वहीँ सूत्रों की माने तो गोरखपुर में भी इस बार बीजेपी के पारम्परिक गढ़ कहे जाने वाले इलाको में भी मतदाताओं में पिछले चुनावो जैसा जोश नहीं दिखाई दिया। 2014 के लोकसभा चुनाव में गोरखपुर में 54.64% मतदान हुआ था लेकिन आज हुए मतदान का प्रतिशत 47.45 रहा है जो पिछले चुनाव से लगभग 8% कम है।

वहीँ फूलपुर में 2014 के आम चुनावो में 50.20% मतदान हुआ था लेकिन आज यहाँ मतदान का प्रतिशत 37.40 रहा है जो पिछले चुनाव से लगभग 13% कम है।

गौरतलब है कि गोरखपुर लोकसभा सीट से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और फूलपुर सीट से उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य सांसद थे। दोनों ने पिछले साल इस्तीफा दे दिया था। इसके चलते दोनों सीटों पर उपचुनाव कराए गए हैं। दोनों ने अपनी सीटों पर जमकर प्रचार किया है. इस उपचुनाव में बीजेपी के दोनों दिग्गज नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है।

वहीँ दूसरी तरफ बिहार की दो विधानसभा और एक लोकसभा सीट पर संतोषजनक मतदान होने की खबर है। बिहार के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अजय नायक ने कहा कि अररिया लोकसभा सीट पर 59 फीसदी मतदान हुआ। जहानाबाद विधानसभा सीट पर 48 फीसदी और भभुआ में 48 फीसदी वोटिंग हुई।

अररिया सीट से आरजेडी के दिग्गज नेता मोहम्मद तसलीमुद्दीन सांसद थे। उनके निधन के बाद ये सीट खाली हुई थी। वहीं, जहानाबाद विधानसभा सीट से आरजेडी के मुंद्रिका सिंह यादव और भभुआ से बीजेपी के आनंद भूषण पांडे के निधन की वजह से ये दोनों सीटें खाली हुई थीं।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें