फिल्म अभिनेता कादर खान का निधन

मुंबई। मशहूर फिल्म अभिनेता क़ादर खान का निधन हो गया है। वे 81 वर्ष के थे। कादरखान पिछले काफी समय से बीमार चल रहे थे और उन्हें कनाडा के अस्पताल में भर्ती किया गया था।

क़ादर खान के बेटे सरफ़राज़ के मुताबिक क़ादर खान को कनाडा में ही दफन किया जायेगा। उन्होंने बताया कि ‘मेरे पिता हमें छोड़कर चले गए। लंबी बीमारी के बाद 31 दिसम्बर शाम छह बजे (कनाडाई समय) उनका निधन हो गया। वह दोपहर को कोमा में चले गए थे। वह पिछले 16-17 हफ्तों से अस्पताल में भर्ती थे।’

उन्होंने कहा, ‘‘उनका अंतिम संस्कार कनाडा में ही किया जाएगा। हमारा सारा परिवार यहीं हैं और हम यहीं रहते हैं इसलिए हम ऐसा कर रहे हैं।’ उन्होंने कहा, ‘हम दुआओं और प्रार्थना के लिए सभी का शुक्रिया अदा करते हैं।’

क़ादर खान के निधन की अफवाहें पिछले काफी समय से आ रही थी लेकिन उनके बेटे ने उन खबरों को खारिज कर दिया था। खान को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी और डॉक्टर उन्हें नियमित वेंटीलेटर और बीपीएपी वेंटीलेटर पर रख रहे थे। सुपर न्यूक्लियर पाल्सी बीमारी के कारण उन्हें चलने में भी दिक्कत आ रही थी और याददाश्त भी कमजोर हो गई थी।

क़ादर खान ने अपने फ़िल्मी कैरियर में संवाद और पठकथा लेखन से कई हिट फिल्मे भी दिन। अभिनेता के तौर पर कादर खान ने हर भूमिका को बखूबी परदे पर उतारा। वे कभी खलनायक के रोल में, कभी चरित्र किरदार तो कभी हास्य अभिनेता के तौर पर फिल्मो को अपना अभिनय देते रहे।

काबुल में जन्मे कादर खान ने 1973 में राजेश खन्ना के साथ फिल्म ‘दाग’ से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी। उसके बाद वह 300 से अधिक फिल्मों में नजर आए। भिनेता बनने से पहले उन्होंने रणधीर कपूर, जया बच्चन की फिल्म ‘जवानी दीवानी’ के लिए संवाद लिखे थे। उन्होंने 250 से अधिक फिल्मों के लिए संवाद भी लिखे हैं। पटकथा लेखक के तौर उन्होंने मनमोहन देसाई और प्रकाश मेहरा के साथ कई फिल्मों में काम किया है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें
loading...