फिर हुई किरकिरी: नेपाल में रामदेव की पतंजलि के 6 प्रोडक्ट लैब टेस्ट में फेल, तत्काल रोक

काठमांडू।  नेपाल में बाबा रामदेव की पतंजलि के 6 प्रोडक्ट लैब टेस्ट में फेल होने के बाद सभी प्रोडक्टों को तुरंत वापस मनवाने के निर्देश जारी किये गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार क्वालिटी टेस्ट में फैल होने के बाद नेपाल सरकार ने पतंजलि उत्पादों की नेपाल में खपत पर तत्काल रोक लगा दी है।

वहीं नेपाल के स्वास्थ्य मंत्रालय ने पतंजलि से अपने छह उत्पादों को वापस स्वदेश भेजने को कहा हैं। इतना ही नहीं सरकार ने देशभर में दुकानदारों से इन उत्पादों को ना बेचने की अपील की है।

टेस्ट में फैल होने वाले छह मेडिकल उत्पादों में दिव्या गाशर चूर्ण, बाहुची चूर्ण, आमला चूर्ण, त्रिफाला चूर्ण, अदविया चूर्ण और अस्वानगंधा शामिल हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कुल सात उत्पादों का प्रोडक्ट क्वालिटी टेस्ट किया गया जिसमें महज एक उत्पाद को नेपाल में बेचनी की हरी झंडी मिल सकी है।

हाल ही में कनक मानी दिक्षित ने ट्वीट करते हुए बताया कि पतंजलि का आमला चूर्ण बैच नंबर AMC067, दिव्या गाशर चूर्ण बैच नंबर A-GHCI31, बाहुची चूर्ण बैच नंबर BKC 011, त्रिफाला चूर्ण बैच नंबर A-TPC151, अस्वानगंधा बैच नंबर AGC 081, अदविया चूर्ण बैंच नंबर DYC 059 माइक्रोबियल टेस्ट में फैल हो गए हैं।

गौरतलब है कि इससे पहले बाबा रामदेव की कंपनी ‘पतंजलि’ के कई उत्‍पाद उत्‍तराखंड की एक लैब द्वारा किए गए क्‍वालिटी टेस्‍ट में फेल हो गए थे।हिन्‍दुस्‍तान टाइम्‍स की रिपोर्ट के अनुसार, सूचना के अधिकार (आरटीआई) के तहत मिले जवाब में यह जानकारी दी गई। इसके अनुसार, हरिद्वार की आयुर्वेद और यूनानी कार्यालय में हुई जांच में करीब 40 फीसदी आयुर्वेद उत्‍पाद, जिनमें पतंजलि के उत्‍पाद भी शामिल हैं, मानक के मुताबिक नहीं पाए गए।

इतना ही नहीं  पिछले महीने सेना की कैंटीन ने भी पतंजलि के आंवला जूस पर प्रतिबंध लगा दिया था। सेना ने यह कार्रवाई पश्चिम बंगाल स्‍वास्‍थ्‍य प्रयोगशाला द्वारा की गई एक गुणवत्‍ता जांच में पतंजलि के उत्‍पाद के फेल होने पर की थी।

 

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *