प्रियंका का एलान: उत्तर प्रदेश में कांग्रेस अकेले दम पर लड़ेगी 2022 का विधान सभा चुनाव

रायबरेली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने एलान किया है कि उत्तर प्रदेश में 2022 का विधानसभा चुनाव कांग्रेस अपने दम पर अकेले लड़ेगी। यूपीए चेयरपर्सन और रायबरेली से सांसद सोनिया गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने ये बड़ा एलान किया।

प्रियंका गांधी ने लोकसभा चुनाव में पार्टी की पराजय के कारण जानने के लिए करीब 40 लोकसभा क्षेत्रो के पराजित प्रत्याशियों और जिलाध्यक्षों के साथ बैठक की। इस दौरान कांग्रेस पदाधिकारियों ने प्रियंका के समक्ष एक प्रस्ताव भी रखा।

प्रदेश के विभिन्न जिलों से आये जिलाध्यक्षों ने मांग की कि कांग्रेस पार्टी 2022 के विधानसभा चुनाव में प्रियंका गांधी को उत्तर प्रदेश के भावी मुख्यमंत्री के तौर पर पेश करे।

प्रियंका गांधी ने अपने सम्बोधन में कहा कि हमे दिल से काम करना है और गंभीरता से आगे बढ़ना है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में पार्टी की हुई पराजय को भूलकर अब सभी कार्यकर्त्ता 2022 के विधानसभा चुनावो के लिए तैयारियों में जुट जाएँ।

प्रियंका गांधी ने कहा कि हमे उन कारणों को टटोलना चाहिए जिनके चलते रायबरेली में जीत का अंतर् पिछले चुनाव की तुलना में कम हुआ। उन्होंने कहा कि पार्टी का हर कार्यकर्त्ता जानता है कि उसने पार्टी के लिए कितना काम किया है।

इस दौरान लोकसभा चुनाव में पराजित हुए कई प्रत्याशियों ने बारी-बारी से हार की वजह प्रियंका के सामने रखी। इस पर प्रियंका गांधी ने पूछा कि पराजय का क्या कारण रहा, ये हमे तय करना होगा। क्या संगठन का साथ नहीं मिला। जनता ने कांग्रेस के बजाय भाजपा का सपोर्ट क्यों किया। क्या मुद्दे रहे। मायावती और अखिलेश यादव के गठबंधन से पार्टी पर क्या फर्क पड़ा। सभी ने इन मुद्दों पर अपनी बात भी रखी।

कार्यकर्त्ता चाहते हैं गठबंधन नहीं होना चाहिए:

बैठक संपन्न होने के बाद सुल्तानपुर के कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी रहे डॉ. संजय सिंह ने मीडिया से बातचीत में बताया कि हम सबने चुनाव में सामने आई दुश्वारियों और अनुभवों को पार्टी नेतृत्व को बताया है। नेतृत्व ने उसे बड़ी गंभीरता से लिया है। आने वाले समय में सबकी राय है कि गठबंधन नहीं होना चाहिए। यूपी में 2022 में होने वाले चुनाव में हम सरकार बनाएंगे, ऐसा हम सबका आत्मविश्वास है। लोकसभा चुनाव में हार के क्या कारण रहे, इस पर संजय सिंह ने कहा कि यह हम बाद में बताएंगे, जब सब तय हो जाएगा कि हम क्या करने वाले हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें