प्याज पर सरकार ने खड़े किये हाथ, मंत्री जी बोले कीमतें कम करना हमारे हाथ में नहीं

नई दिल्ली। देश में आसमान छू रही प्याज और टमाटर की कीमतों को लेकर अब सरकार ने भी हाथ खड़े कर दिए हैं। केंद्रीय खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने बुधवार को कहा कि कीमतें कम करना हमारे हाथ में नहीं है।

पासवान ने कहा कि महाराष्ट्र के नासिक और राजस्थान के अलवर में सरकारी एजेंसियों ने प्याज की खरीदी की है। साथ ही, प्याज का आयात भी किया गया है। उन्होंने कहा कि प्याज का रकबा वर्ष 2016-17 के 2.65 लाख हेक्टेयर के मुकाबले इस साल 2017-18 में घटकर 1.90 लाख हेक्टेयर रह गया है। पत्रकारों से बातचीत में पासवान ने कहा, “हमने कई कदम उठाए हैं।

पासवान ने कहा कि खरीफ प्याज की फसल की आवक शुरू होने पर इसकी कीमतों में कमी आ सकती है। पासवान ने प्याज और टमाटर की कीमतों में इजाफा को लेकर बुधवार को कृषि मंत्रालय और खाद्य मंत्रालय के अधिकारियों के अलावा दिल्ली सरकार के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की।

बता दें कि इससे पहले 31 अक्टूबर को पासवाल ने प्याज और टमाटर के खुदरा भाव में बढ़ोतरी के लिए जमाखोरों को जिम्मेदार ठहराया था। उन्होंने कहा था कि नई फसल की आवक शुरू होने पर स्थिति सामान्य हो पाएगी।

गौरतलब है कि देशभर में प्याज और टमाटर के दामों में तेजी से वर्द्धि हुई है। दिल्ली एनसीआर सहित देश के कई शहरो में टमाटर का भाव प्रति किलो 80 रुपये से अधिक तक दर्ज किया गया है। वहीँ टमाटर के भाव के साथ चल रही प्याज भी 60 रुपये से 80 रुपये किलो तक बिक रही है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *