पूरे देश में भय और संघर्ष का माहौल: कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में सोनिया गांधी

नई दिल्ली। बजट सत्र के अंतिम दिन कांग्रेस संसदीय दल की बैठक को सम्बोधित करते हुए यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने कहा कि पूरे देश में भय और संघर्ष का माहौल है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार लगातार संविधान के मूल्यों, सिद्धांतों और प्रावधानों पर हमले कर रही है। संस्थाओं को बर्बाद किया जा रहा है, राजनीतिक विरोधियों को निशाना बनाया जा रहा है, जो सहमत नहीं है उनको दबाया जा रहा है और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का गला घोंटने की कोशिश की जा रही है। पूरे देश में डर और संघर्ष का माहौल है।”

बैठक को सम्बोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि वहीं ‘कांग्रेस एकमात्र पार्टी है जो कि बीजेपी को विचारधारा के स्तर पर रोज़ हरा रही है। कांग्रेस पूरे देश को एक मानकर आवाज़ उठाती है। बरोज़गारी, नोटबंदी और राफेल जैसे मुद्दों ने मोदी सरकार की विश्वसनीयता को कम किया है।’

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार देश की संवैधानिक संस्थाओं को अपने हिसाब से चलाने की कोशिश कर रही है। राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार में देश की संवैधानिक संस्थाओं का वजूद खतरे में हैं।

बुधवार को हुई कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री डा मनमोहन सिंह, मल्लिकार्जुन खड़के तथा कांग्रेस के अन्य कई वरिष्ठ नेता शामिल हुए।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें