पुलवामा हमला: संसद में सर्वदलीय बैठक में निंदा प्रस्ताव पास

नई दिल्ली। पुलवामा हमले के बाद आज संसद में सरकार की तरफ से बुलाई गयी सर्वदलीय बैठक सम्पन्न हो गयी है। इस बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने विपक्षी दलों के साथ पुलवामा हमले के बाद सरकार द्वारा उठाये गए कदमो की जानकारी दी।

सर्वदलीय बैठक में एक प्रस्ताव पास किया गया है। जिसमें कहा गया है कि हम जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए नृशंस आतंकी कृत्य की कड़ी निंदा करते हैं जिसमें सीआरपीएफ के 40 बहादुर जवानों की जान चली गई।

संसदीय कार्यमंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सर्वदलीय बैठक के बारे में कहा, ‘गृहमंत्री का कहना है कि आतंकवाद से सख्ती से निपटेंगे। सुरक्षाबलों के हौंसले बुलंद हैं। आतंकवाद के खिलाफ हम एकजुट हैं। हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। सुरक्षाबलों को फ्री हैंड दे दिया गया है।’

बैठक के बाद कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद ने कहा, ‘हम राष्ट्र और सुरक्षा बलों की एकता और सुरक्षा के लिए सरकार के साथ खड़े हैं। फिर चाहे वह कश्मीर हो या देश का कोई और हिस्सा। आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में कांग्रेस पार्टी सरकार को अपना पूरा समर्थन देती है।’

आजाद ने आगे कहा, ‘मैंने यह भी कहा है कि युद्ध को रोका जाए। 1947 के बाद पहली बार इतनी बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों को किसी हमले में मारे गए हैं। हम अपने सुरक्षाबलों- सेना, सीआरपीएफ और पुलिस के साथ खड़े हैं। पूरा देश उनके साथ है।’

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें