पीड़ित दलित परिवार के घर पहुंचे राहुल, दिलाया न्याय का भरोसा

राहुल ने कहा कि छात्रा के साथ अन्याय हुआ है। राजस्थान की सरकार न्याय की राह पर नहीं है। छात्रा को न्याय दिलाने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री से मिलने गए प्रतिनिधि मंडल से भी उनका व्यवहार अशोभनीय रहा।

Rahul-Agency

बाड़मेर । कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी सुबह 11:45 बजे सीमावर्ती त्रिमोही गांव पहुंचे। यहां दलित छात्रा की नोखा बीकानेर में मौत को लेकर उन्होंने सीबीआई से जांच की पैरवी की।

राहुल ने कहा कि छात्रा के साथ अन्याय हुआ है। राजस्थान की सरकार न्याय की राह पर नहीं है। छात्रा को न्याय दिलाने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री से मिलने गए प्रतिनिधि मंडल से भी उनका व्यवहार अशोभनीय रहा।

राहुल ने कहा कि दलित छात्रा को न्याय दिलाने के लिए कांग्रेस पार्टी हर समय तैयार रहेगी। भारती जनतापार्टी भले ही अंबेडकर की प्रतिमाएं लगाए, लेकिन उनकी तरह न्याय के सिद्धांत पर भी चले। राहुल गांधी यहां करीब आधा घंटा रुके। उन्होंने छात्रा को पुष्पांजलि दी। इसके बाद उसके पिता से मिल विश्वास दिलाया कि वो अकेले नहीं है, पार्टी उनके साथ खड़े रहकर न्याय के लिए संघर्ष करेगी।

इस दौरान अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव हरिश चौधरी व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने उन्हें प्रकरण की पूरी जानकारी दी।

छात्रा के परिवार का कहना है कि उन्होंने अपनी बेटी को बेटे की तरह पाला था, उसे किसी भी हाल में न्याय मिलना चााहिए, लेकिन उनकी बात कोई सुनने को तैयार नहीं है। अबतक हुई कार्रवाई से भी अवगत करवाया। राहुल ने यहां मौजूद दलित समाज के लोगों से बात कर पूरे घटनाक्रम को समझा।

इसके बाद उन्होंने आंगन में जाकर छात्रा की मां से पीड़ा सुनी तथा ढाढ़स बंधाया। राहुल ने आश्वस्त किया कि न्याय की लड़ाई में वे हमेशा उनके साथ रहेंगे। दोपहर 12:20 बजे वे त्रिमोही से उत्तरलाई के लिए रहवाना हुए।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *