पीएम के इतिहास ज्ञान पर शॉटगन का तंज ‘पीएम बनने से कोई बुद्धिमान नहीं हो जाता’

नई दिल्ली। बीजेपी के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा एक चुनावी सभा में इतिहास को लेकर गलत बयानी पर तंज कसा है। सिन्हा ने कहा कि पीएम बनने से कोई बुद्धिमान नहीं हो जाता।

शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्विटर पर पीएम मोदी को टैग करते हुए एक ट्वीट में कहा कि “कर्नाटक में आज चुनाव प्रचार थम गया है, लेकिन बिहार-यूपी की तरह मुझे यहां पर भी प्रचार के लिए नहीं बुलाया गया था, कारण हम सभी को पता है। लेकिन एक पुराने दोस्त की तरह मैं इतना कहना चाहूंगा कि आपको प्रधानमंत्री पद की गरिमा रखनी चाहिए।”

शत्रुघ्न ने कहा कि हम कांग्रेस पर PPP तरह के कमेंट क्यों कर रहे हैं, जबकि नतीजा तो 15 मई को आना है। प्रधानमंत्री बनने से कोई बुद्धिमान नहीं बन जाता है। कर्नाटक में जनता को तय करने दीजिए। शत्रुघ्न सिन्हा ने इन सभी ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ-साथ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को भी टैग किया है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कर्नाटक की एक चुनावी सभा में कहा था कि जब शहीद भगत सिंह, बटुकेश्वर दत्त और वीर सावरकर देश की आजादी के लिए जेल में लड़ रहे थे। क्या कोई कांग्रेस नेता उनसे मिलने गया था?’ पीएम मोदी द्वारा कांग्रेस को लेकर उठाये गए इस सवाल पर वे खुद ही घिरते नज़र आ रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा इतिहास को तोड़मरोड़ पर पेश करने पर तरह तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। इतिहासकारो की माने तो ये दस्तावेजों में दर्ज है कि पंडित जवाहर लाल नेहरू ने लाहौर जेल में 8 अगस्त, 1929 को भगत सिंह और उनके साथियों से मुलाकात की थी, जो प्रशासन के दुर्व्यवहार के खिलाफ जेल में भूख हड़ताल कर रहे थे।

Share

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें