पानी लेकर लातूर पहुंची विशेष रेल, जनता के टूट पड़ने के भय से लगानी पड़ी धारा 144

महाराष्ट्र के मराठवाड़ा और आसपास के इलाको में पानी की कितनी किल्ल्त है इसका अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पानी लेकर आने वाली ट्रेन के इंतज़ार में लोग पूरी रात पटरियों के किनारे बैठ कर ट्रेन की राह निहारते रहे ।

water-train

मुंबई । महाराष्ट्र के मराठवाड़ा इलाके में सूखे से परेशान लोगों को राहत पहुंचाने के लिए जो स्पेशल ट्रेन पांच लाख लीटर पानी लेकर चली थी, वह सोमवार रात लातूर पहुंच गई। पानी के इंतज़ार में लोग रात भर रेल के पटरियों के किनारे बैठे रहे । जिसको देखते हुए प्रशासन को अंदेशा था कि कहीं ट्रेन आते ही लोग पानी ले लिए टूट न पड़े इसलिए लातूर में धारा 144 लागू कर दी गई है ।

यह विशेष ट्रेन महाराष्ट्र के पश्चिमी इलाके मिराज से पानी के 10 डिब्‍बे लेकर सोमवार सुबह 11 बजे रवाना हुई थी और सुबह 5 बजे लातूर पहुंच गई। विशेष ट्रेन ने 350 किलोमीटर की दूरी 18 घंटे में तय की। प्रत्‍येक डिब्बे में करीब 50 हजार लीटर पानी है। इन डिब्बों में सांगली जिले के मिराज रेलवे स्टेशन पर पानी भरा गया।

सेंटर रेलवे के मुख्‍य प्रवक्ता नरेंद्र पाटिल ने बताया कि लातू रेलवे स्‍टेशन के पास पानी को स्टोर किया जाएगा, जिसके बाद उसका वितरण होगा। केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा कि दस राज्यों में हालात खराब हैं। लोगों को पीने के लिए पानी नहीं मिल रहा है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *