पाक, नेपाल के बाद बांग्लादेश के कंधे पर भी चीन का हाथ

ढाका। पाकिस्तान से दोस्ताना रिश्ते बनाने के बाद अब चीन बांग्लादेश से नजदीकियां बढ़ा रहा है। चीन और बांग्लादेश कोई बढ़ती नजदीकियों का असर बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हासीना के एक ताज़ा बयान में भी देखने को मिली है।

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने हाल ही में कहा कि चीन से बांग्लादेश के रिश्तो पर भारत को चिंता करने की ज़रूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि बांग्लादेश के विकास के लिए उनका चीन के साथ अच्छे और मजबूत रिश्ते कायम करना आवश्यक है।

तीन दिवसीय बांग्लादेश-भारत मीडिया संवाद में शामिल होने के लिए कोलकाता और नयी दिल्ली के पत्रकार बांग्लादेश आए हुए हैं। इस दौरान हसीना ने अपने आधिकारिक आवास पर भारतीय पत्रकारों के एक प्रतिनिधिमंडल से बात करते हुए यह बात कही।

शेख हसीना ने कहा कि भारत को चिंता करने की जरूरत नहीं है। मेरा सुझाव तो यह है कि भारत को बांग्लादेश समेत अपने पड़ोसियों से अच्छे संबंध रखने चाहिए ताकि क्षेत्र का आगे भी विकास हो सके और हम दुनिया को दिखा सकें कि हम सब मिलकर काम करते हैं।

वहीँ जानकारों की माने तो चीन एक रणनीति के तहत पाकिस्तान के बाद बांग्लादेश पर डोरे डाल रहा है। जानकारों के अनुसार चीन ने पहले ही भारत के पुराने मित्र नेपाल को अपनी तरफ मिला लिया है। भारतीय सीमा से सटे पाकिस्तान, बांग्लादेश और नेपाल जैसे देशो में चीन अपनी पैंठ बना रहा है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें