पहले जोड़ते थे आसाराम के हाथ, अब चौराहे और बस स्टॉप से हटवाये बोर्ड

भोपाल। रेप मामले में आजीवन कारावास की सजा पाने वाले आसाराम का मध्य प्रदेश में बड़ा जलवा था। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक चौराहे का नाम आसाराम बापू के नाम पर था, इतना ही नही एक बस स्टॉप को भी आसाराम का नाम दिया गया था।

आसाराम को रेप मामले में कल आजीवन कारावास की सजा सुनाये जाने के बाद मध्य प्रदेश सरकार हरकत में आई और प्रदेश की राजधानी सहित मध्य प्रदेश के कई इलाको में पहले से लगे हुए आसाराम के नाम के बोर्ड उतार दिए गए। इसी क्रम में भोपाल नगर निगम ने शहर में दो स्थानों से आसाराम के नामवाले बोर्ड हटा दिये।

इससे पहले कल भोपाल गैस पीड़ितों के हित में काम करनेवाली महिला सामाजिक कार्यकर्ता रचना ढींगरा के ट्विटर पर जारी किये गये वीडियो का उत्तर देते हुए चौहान ने ट्वीट किया, ‘हमारे देश में कानून, संविधान और जनभावना से ऊपर कुछ भी नहीं है। यह वह देश है जहां औरंगजेब रोड का नाम भी बदल दिया गया है। जल्द ही इस मामले पर भी उचित कार्यवाही करेंगे।’

ढींगरा ने वीडियो में कहा, ‘काफी इंतजार के बाद राजस्थान में एक अदालत द्वारा नाबालिग से बलात्कार के मामले में आसाराम को दोषी करार देकर सजा दी गयी है और शहर भोपाल जहां मैं रहती हूं, वहां एक चौराहा और बस स्टॉप उसके नाम पर हैं।’

ढींगरा ने कहा, ‘इसलिए महिला अधिकारों के समर्थन और संरक्षण का दावा करनेवाले मुख्यमंत्री से मैं जानना चाहती हूं कि क्या वह आसाराम के नामवाले चौराहे और बस स्टॉप का नाम बदलेंगे।’

इसके बाद एक अन्य सामाजिक कार्यकर्ता अक्षय हुंका ने ढींगरा के ट्वीट से मुख्यमंत्री को टैग कर दिया और ढींगरा की बात पर उनका मत स्पष्ट करने की मांग की। इसके जवाब में मुख्यमंत्री चौहान ने इस मामले में कार्यवाही के लिए आश्वास्त किया।

मुख्यमंत्री के इस ट्वीट के तुरंत बाद ही भोपाल के महापौर आलोक शर्मा स्वयं ही शहर के एयरपोर्ट रोड पर स्थित आसाराम बस स्टॉप पहुंच गये और वहां लगे नाम के बोर्ड हटवा दिये।

शर्मा ने कहा, ‘शहर में आसाराम के नामवाले सभी स्थानों के नाम में अब बदलाव किया जायेगा। मैंने आसाराम बस स्टॉप और चौराहे पर लगा बोर्ड हटवा दिया है। बस स्टॉप और चौराहे का नया नाम क्या हो, इसका निर्णय बाद में किया जायेगा।’

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *