पहलू खान मामले की एसआईटी करेगी जांच, 15 दिन में देगी रिपोर्ट

जयपुर। राजस्थान के अलवर में पशु कारोबारी पहलू खान की पीट पीट कर हत्या किये जाने के मामले में राजस्थान सरकार ने विशेष जांच दल (एसआईटी) बनाने का एलान किया है। एसआईटी इस मामले की जांच कर पंद्रह दिनों के अंदर अपनी जांच रिपोर्ट देगी। शुक्रवार देर रात सरकार की तरफ से यह बयान जारी किया गया।

गौरतलब है कि अलवर की जिला अदालत ने बुधवार को पहलू खान की भीड़ द्वारा हत्या के मामले में सभी छह आरोपियों को संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया था। इस मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जिला अदालत के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती देने की बात कही थी।

इस बीच शुक्रवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री कार्यालय में राज्य के आलाधिकारियों के साथ एक बैठक की। गहलोत ने पहलू खान हत्याकांड की जांच में रही त्रुटियों पर विस्तार से चर्चा की।

बैठक में निर्णय लिया गया कि अधीनस्थ अदालत के निर्णय के खिलाफ अपील की जाए जिसके लिए एक वरिष्ठ अधिवक्ता की सेवाएं ली जाएंगी। इसके साथ ही प्रकरण की जांच के लिए एडीजी (अपराध) की निगरानी में विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया जाएगा। यह एसआईटी 15 दिन में अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगा।

पहलू खान मामले में जिला अदालत द्वारा सभी आरोपियों को बरी किये जाने के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी द्वारा ट्वीट किए जाने के बाद राजस्थान सरकार हरकत में आई। सरकार ने आरोपियों के बरी होने की फाइल मंगवाकर विधि विभाग से हाईकोर्ट में अपील करने की अनुशंसा कर भिजवा दी है। सोमवार को कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील भी की जाएगी।

गौरतलब है कि एक अप्रैल, 2017 को हरियाणा के नुहं मेवात जिले के निवासी पहलू खान अपने बेटों के साथ जयपुर के पशु हटवाड़ा से दो गाय खरीद कर अपने घर लौट रहे थे।

शाम के समय बहरोड़ पुलिया के पास भीड़ ने उन्हें रोक लिया और पहलू व उसके बेटों की पिटाई की गई। इस मारपीट में पहलू खान बुरी तरह घायल हो गया था। सूचना पर पुलिस ने पहलू खान को अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गई।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें