पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल समाप्त, ममता ने डॉक्टरों से किया सुरक्षा का वादा

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में पिछले लगभग एक सप्ताह से चल रही डॉक्टरों की हड़ताल आज समाप्त हो गयी है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और हड़ताली डॉक्टरों के बीच आज हुई बैठक के बाद डॉक्टरों ने हड़ताल समाप्त करके काम पर वापस लौटने का एलान किया।

बैठक में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अस्पतालों में डॉक्टरों की सुरक्षा के पुख्ता इंजाम किये जाने का आश्वासन दिया। इससे पहले आज आंदोलनकारी जूनियर डॉक्टरों के एक प्रतिनिधि मंडल ने आज मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा राज्य सचिवालय में बातचीत के लिए बुलाई गयी बैठक में भाग लिया। इस बैठक में 31 जूनियर डॉक्टर के अलावा पश्चिम बंगाल के स्वास्थ्य सचिव, राज्य मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य और राज्य के अधिकारी मौजूद थे।

बैठक में जूनियर डॉक्टरों ने अपनी सुरक्षा का मुद्दा उठाया। जूनियर डॉक्टरों के ज्वाइंट फोरम ने कहा, काम करते हुए हमें डर लगता है, एनआरएस के डॉक्टरों से मारपीट करने वालों को ऐसी सजा दी जाए जो दूसरों के लिए उदाहरण हो।

इस पर जवाब देते हुए ममता ने कहा कि हमने पर्याप्त कदम उठाए हैं, एनआरएस अस्पताल में हुई घटना में कथित तौर पर लिप्त पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। ममता बनर्जी ने अस्पतालों में सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था किये जाने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि सभी हॉस्पिटल्स में नोडल अधिकारी नियुक्त होंगे।

सीएम ने कहा, राज्य सरकार ने किसी भी डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया। केवल दो क्षेत्रीय न्यूज चैनलों को राज्य सचिवालय में बनर्जी और जूनियर डॉक्टरों के बीच हुई बैठक को कवर करने की अनुमति दी गयी।

गौरतलब है कि एनआरएस मेडिकल कॉलेज में एक मरीज की मौत के बाद दो जूनियर से हुई मारपीट के विरोध में राज्य के जूनियर डॉक्टर मंगलवार से हड़ताल पर हैं। इसका असर देश के दूसरे राज्यों तक पहुंच गया है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें