परदे के पीछे से कांग्रेस नेताओं को एकजुट कर रहीं हैं सोनिया

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में जहाँ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पूरे दमखम से चुनावी कमान संभाले हुए हैं वहीँ यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी परदे के पीछे से चुनावो में बड़ी भूमिका अदा कर रही हैं।

सूत्रों के मुताबिक नरसिम्हाराव के बाद एक बार फिर कांग्रेस को अपने पैरो पर खड़ी करने वाली सोनिया गांधी परदे के पीछे से बड़ी भूमिका निभा रही हैं। भले ही धरातल पर राहुल गांधी काम कर रहे हैं लेकिन उन्हें हर कदम पर गाइड किया जा रहा है।

सूत्रों के मुताबिक मध्य प्रदेश को लेकर मीडिया में ख़बरें आ रही हैं कि वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह को राहुल गांधी नजरअंदाज कर रहे हैं लेकिन हकीकत इसके परे है। सूत्रों ने कहा कि यह कांग्रेस की एक सोची समझी रणनीति का हिस्सा है। इसलिए इस बार चुनाव में दिग्विजय सिंह को आगे की पंक्ति में न रखकर दूसरी पंक्ति में रखा गया है।

सूत्रों ने बताया कि दिग्विजय सिंह नियमित तौर पर यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी से सम्पर्क बनाये हुए हैं। इतना ही नहीं दिग्विजय सिंह सोनिया गांधी के निर्देश पर ही ख़ामोशी से काम कर रहे हैं।

सूत्रों के अनुसार सोनिया गांधी 2019 के आम चुनाव के लिए न सिर्फ विपक्षी दलों बल्कि राज्य स्तर पर कांग्रेस के नेताओं को भी एकजुट करने में लगी हैं। सूत्रों ने कहा कि सोनिया गांधी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और तेलंगाना के नेताओं को एकजुट होने का सन्देश दे चुकी हैं।

सूत्रों की माने तो मध्य प्रदेश को लेकर सोनिया गांधी व्यक्तिगत मुलाकात के दौरान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह को चुनाव जीतने के लिए एकजुट होकर काम करने का सन्देश दे चुकी हैं।

सूत्रों ने कहा कि महाराष्ट्र, तेलंगाना और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस प्रभारियों की न्युक्ति में सोनिया गांधी की अहम भूमिका थी। सूत्रों के मुताबिक हाल ही में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी में आया बदलाव भी सोनिया गांधी की ही देन है।

फिलहाल सभी की नज़रें पांच राज्यों के विधानसभा चुनावो पर टिकी हैं। पांच राज्यों के विधानसभा चुनावो को 2019 का सेमीफाइनल माना जा रहा है इसलिए 11 दिसंबर को चुनाव परिणाम आने के बाद पता चलेगा कि देश की राजनीति की नई तस्वीर कैसी होगी।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें