पद्मावती पर विवाद के बीच दीपिका ने पीएम के कार्यक्रम से खुद को अलग किया

हैदराबाद। फिल्म पद्मावती को लेकर विवाद अभी भी जारी है। दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह अभिनीत फिल्म पद्मावती को लेकर कई प्रदेशो के मुख्यमंत्रियों ने भी अपने राज्यों में फिल्म रिलीज नहीं करने देने की बात कही है। इसमें अधिकांशतः बीजेपी शासित राज्य हैं।

इस बीच फिल्म में पद्मावती का किरदार निभाने वाली दीपिका पादुकोण ने वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन (जीईएस) से अपना नाम वापस ले लिया है। इस सम्मेलन का आयोजन 28 नवंबर को होना है और सम्मेलन के उद्घाटन समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप भी मौजूद रहेंगी।

तेलंगाना सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को बताया कि पहले दीपिका ने सम्मेलन में हिस्सा लेने को लेकर अपनी सहमति दी थी, लेकिन अब उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया है।

इसके लिए उन्होंने कोई वजह नहीं बताई है लेकिन ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि बीजेपी नेताओं और बीजेपी शासित मुख्यमंत्रियों द्वारा पद्मावती फिल्म का विरोध किये जाने से दीपिका बेहद आहत हैं और इसलिए उन्होंने इस कार्यक्रम से खुद को अलग कर लिया है।

दीपिका सम्मेलन के दौरान ‘हॉलीवुड टू नॉलीवुड टू बॉलीवुड : दि पाथ टू मूवीमेकिंग’ नामक सत्र में एक वक्ता के तौर पर शामिल थीं। नाइजीरिया की फिल्म इंडस्ट्री को ‘नॉलीवुड’ के नाम से जाना जाता है। उधर, क्रिकेटर एमएस धौनी ने भी सम्मेलन से अपना नाम वापस ले लिया है।

तेलंगाना के सूचना प्रौद्योगिकी एवं उद्योग विभाग के प्रमुख सचिव जयेश रंजन ने बताया कि लोग विभिन्न कारणों से नाम वापस ले रहे हैं, लिहाजा कुछ बदलावों के साथ वक्ताओं की अंतिम सूची जल्द ही जारी होने की उम्मीद है।

Share

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें