पटना में 28 साल बाद हो रही कांग्रेस की रैली आज, राहुल के साथ महागठबंधन नेता होंगे शामिल

बिहार-झारखंड ब्यूरो। बिहार में एक अरसे के बाद कांग्रेस मजबूत दिखाई दे रही है। यही कारण है कि पटना के गांधी मैदान में कांग्रेस 28 वर्षो के बाद आज एक बड़ी रैली का आयोजन कर रही है। इस रैली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के अलावा महागठबंधन के नेता भी शामिल होंगे।

कांग्रेस की आज होने जा रही रैली को लोकसभा चुनाव से पहले शक्ति प्रदर्शन के तौर पर देखा जा रहा है। इस रैली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अलावा राष्ट्रीय जनता दल नेता तेजस्वी यादव,लोकतान्त्रिक जनता दल नेता शरद यादव, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतनराम मांझी और राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा शामिल होंगे।

फ़िलहाल माना जा रहा है कि बिहार में महागठबंधन के लिए सीटों के बंटवारे पर सभी दलों में सहमति हो गयी है। 40 लोकसभा सीटों वाले बिहार में राष्ट्रीय जनता दल 20 सीटों पर, कांग्रेस 10 सीटों पर तथा शेष रही दस सीटें राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी, लोकतान्त्रिक जनता दल और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा और वाम दलों के बीच में बांटी जानी हैं।

बिहार में महागठबंधन बनने के बाद बीजेपी और जेडीयू की राहें थोड़ी मुश्किल हो सकती हैं। इसकी अहम वजह जेडीयू के वोट बैंक में महागठबंधन की बड़ी सेंध माना जा रहा है। जानकारों की माने तो बिहार में सर्वाधिक ओबीसी, दलित और मुस्लिम मतदाताओं का रुझान महागठबंधन की तरफ पलट सकता है। जिसका नुकसान सीधे तौर पर जेडीयू को होगा।

फ़िलहाल सभी की निगाहें कांग्रेस की आज होने जा रही रैली पर टिकी हैं। रैली स्थल की तरफ जाने वाले मार्ग को कांग्रेस समर्थको ने होर्डिंग बैनरो से पाट दिया है। कांग्रेस की आज की रैली को लेकर स्थानीय नेताओं और कार्यकर्ताओं में खासा जोश दिखाई दे रहा है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें