पंजाब सरकार ने जनता को दी बड़ी राहत, बजट में पेट्रोल डीजल पर घटाया टेक्स

चंडीगढ़। पंजाब सरकार ने साल 2019-20 के लिए पेश किये गए कुल 1,58,493 करोड़ रुपये के बजट में राज्य की जनता को बड़ी राहत देते हुए पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले टेक्स (वैट) में कमी करने का एलान किया है।

वैट में कमी के बाद अब राज्य की जनता को पेट्रोल 5 रुपये और डीजल 1 रुपये सस्ता मिलेगा। पेट्रोल डीजल की कीमतो में आयी कमी आज रात से लागू होंगी। इसके अलावा भी पंजाब सरकार ने किसान, उद्योगों को कई अन्य राहत देने की भी घोषणा की है। सरकार द्वारा पेश बजट में किसी भी नए टैक्स का प्रस्ताव नहीं किया गया है और सभी वर्गों को राहत देने की कोशिश की गई है।

बजट में स्वास्थ्य, शिक्षा, ग्रामीण और शहरी ढांचागत सुविधाओं पर जोर दिया गया है। इन क्षेत्रों के लिए बजट आवंटन में 9 से लेकर 36 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की गई है। राज्य पर 2019- 20 के दौरान कुल बकाया कर्ज 2,29,612 करोड़ रुपये तक पहुंच जाने का अनुमान लगाया गया है जो कि 2018-19 के संशोधित अनुमान में 2,12,276 करोड़ रुपये रहा है। वित्त मंत्री ने बढ़ते कर्ज के लिए पूर्व की अकाली दल-भाजपा सरकार के राजकोषीय मामलों में गैर-जिम्मेदाराना रवैये को जिम्मेदार ठहराया।

बजट में अनुमान लगाया गया है कि वित्त वर्ष 2019-20 में राजस्व घाटा 11,687 करोड़ रुपये रह सकता है। यह राज्य के जीडीपी का 2.02 फीसदी है। वहीं राजकोषीय घाटा 19,658 करोड़ रुपये रह सकता है जो राज्य के जीडीपी का 3.40 फीसदी रह सकता है।

किसानों के कर्ज माफी के लिए मनप्रीत सिंह बादल ने 3,000 करोड़ रुपये का प्रस्ताव किया है। उन्होंने कहा, ‘हमारी सरकार योजना के अगले चरण के क्रियान्वयन में भूमिहीन किसानों और उन किसान परिवार के कर्ज माफ करेगी जिन्होंने मजबूरन खुदकुशी की।’

बजट में की गयीं अहम घोषणाएं:

-पंजाब सरकार ने पैट्रोल-डीजल से हटाया वैट, पैट्रोल 5 रुपए और डीजल 1 रुपए तक सस्ता

-डेरा बाबा नानक डेवलपमेंट अथॉरिटी के लिए 25 करोड़

-300 करोड़ रुपये गुरु नानक देव जी के 550 प्रकाश पर्व उत्सव के लिए

-जलियांवाला बाग के लिए 5 करोड़

-वजीफे के लिए 938.71 करोड़, पोस्ट मैट्रिक व अन्य वजीफा स्कीम

-आशीर्वाद स्कीम के लिए 100 करोड़

-वृद्धाश्रमों के लिए 31.14 करोड़

-स्मार्ट विलेज स्कीम के लिए 2600 करोड़

-2010 नए इंग्लिश मीडियम स्कूल बढ़ाए जाएंगे

-कन्या सरकारी स्कूल मलेरकोटला के पुनर्निर्माण के लिए 5 करोड़

-बेबे नानकी कॉलेज सुल्तानपुर लोधी के लिए 10 करोड़

-भूचो, बल्लुअना, धरमकोट, चबेवाल, दसुआ, समराला, नाभा, एस ए एस, मलोट, व खेमकरण में नए कॉलेज के लिए 50 करोड़

-पटियाला में नई ओपन यूनिवर्सिटी के लिए 5 करोड़

-सरकारी यूनिवर्सिटीज के लिए ग्रांट इन एड में 6 प्रतिशत की बढ़ोतरी

-पंजाबी यूनिवर्सिटी के लिए 50 करोड़ की विशेष ग्रांट

-स्वास्थ्य के लिए बजट में 10.87 प्रतिशत की बढ़ोतरी

-एनएचएम के लिए 978.12 करोड़ का प्रावधान

-सरबत सेहत योजना के लिए 250 करोड़, 42 लाख परिवारों को मिलेगा कवर

-होशियार पुर, अमृतसर, फाजिल्का में केंसर सेंटर के लिए 60 करोड़

-गुरदासपुर, पठानकोट व संगरूर में पीपीपी मॉडल के तहत नए मेडिकल कालेज

-मोहाली सरकारी मेडिकल कालेज के लिए 60 करोड़

-लुधियाना, अमृतसर व जालंधर स्मार्ट सिटी के लिए 296 करोड़

-गूंगे बहरे बच्चों के लिए बारहवीं तक का स्कूल लुधियाना में। 6.54 करोड़ का प्रावधान

-अध्यापकों को स्पेशल एजुकेशन ट्रेनिंग के लिए कॉलेज के लिए 15 करोड़

-मनरेगा के लिए 500 करोड़

-पटियाला, अमृतसर जालधर, लुधियाना में नहरी पानी को पीने के पानी के तौर पर सप्लाई करने के लिए 200 करोड़। कुल लागत 4800 करोड़

-स्ट्रीट लाइट्स के लिए 300 करोड़

-लिंक सड़कों की मरम्मत के लिए 2000 करोड़। 31000 किलोमीटर की होगी मरम्मत

-पुलिस थानों, चौकियों के रख रखाव के लिए 4 करोड़

-सरकारी घरों की मरम्मत के लिए 44 करोड़

-अदालतों के निर्माण अपग्रेडेशन के लिए 58 करोड़

-कंडी एरिया के 1414 गावों के विकास के लिए 100 करोड़

-ग्रामीण इलाकों में पेयजल के लिए 193 और आर ओ सिस्टम। 20 करोड़ का प्रावधान। पहले से हैं 2311 आर ओ

-बाढ़ से बचाव के लिए 100 करोड़

-बुड्ढा नाला में प्रदूषण नियंत्रण के लिए 4.38 करोड़

-श्री आनंदपुर साहिब के इलाके में लिफ्ट इरिगेशन के लिए 19 करोड़

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें
loading...