नोटबंदी: नाराज़ हीरा व्यवसायी सड़क पर उतरे, पीएम मोदी का पुतला फूंका

सूरत । नोटबंदी में मंदी झेल रहे हीरा कारोबारीयों का आज गुस्सा फूट पड़ा । उन्होंने सड़क पर उतर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारेबाज़ी की और पुतला जलाया । नोटबंदी से नगदी की किल्लत झेल रहे व्यापारियों ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमसे पचास दिन तक तपस्या कराई लेकिन अब तो 55 दिन बीत चुके आज भी नगदी की मारामारी है ।

गौरतलब है कि नोटबंदी लागू होने के बाद से सूरत के हीरा कारोबारी नगदी के आभाव में दैनिक मजदूरो को नियमित नगद भुगतान नही कर पा रहे हैं । इसके चलते उन्हें काम करने वाले नही मिल रहे । हीरा कारोबारियों का कहना है कि जो लोग हमारे यहाँ काम करते थे वे अधिकांशतः दूसरे प्रान्तों के रहने वाले हैं । उन्हें अपनी आजीविका चलाने के लिए नगद भुगतान करना पड़ता है लेकिन नोटबंदी के चलते बैंको में नगदी का अभाव बरकरार है । ऐसे में हम उन्हें नगद मजदूरी नही दे पा रहे ।

वराछा इलाके में हीरा बाजार में व्यापारी और कारीगर बड़ी संख्या में हाजिर हुए और मोदी हाय-हाय के नारे लगाए। पिछले कई दिनों से नोटबंदी के कारण व्यापारियों के पास अपने कारीगरों को देने के लिए पैसे नहीं है और कारीगरों का बैंक खाता खोलने में भी असुविधा हो रही है, जिसके कारण हीरा बाजार में छुट्टियों सा माहौल है।

नोटबंदी से नाराज़ हीरा कारोबारियों ने कहा कि आखिर कब तक इंतज़ार करना पड़ेगा । हमारा काम चौपट हो चूका है । प्रधानमंत्री ने पचास दिन का समय माँगा था हमने किसी तरह काम चलाया लेकिन अब ऐसे हालातो में काम कर पाना सम्भव नही है । उन्होंने मांग की कि या तो सरकार नोटबंदी वापस ले अथवा नगदी की समुचित व्यवस्था करे ।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *