नोएडा में चलती कार में 11वीं की छात्रा से गैंगरेप, 11 घंटे बाद छोड़ा

नोएडा। देश में सामूहिक दुष्कर्म की घटनाओं एक के बाद एक सामने आ रही हैं, कठुआ और उन्नाव में गैंगरेप की घटनाओं के बाद देश भर में प्रदर्शन चल रहे हैं। अपराधियों को सख्त संदेश देने के लिए केंद्र सरकार ने कानून में भी संशोधन किया है।

इसके बावजूद देश में दुष्कर्म की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। ताजा मामले में यूपी के ग्रेटर नोएडा कोतवाली क्षेत्र में 11वीं की छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पूरी घटना 18 अप्रैल की है, अब जाकर मामले का खुलासा हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, आरोपित युवक 11 घंटे तक छात्रा को कार में बंधक बनाकर घुमाते रहे। देर रात छात्र को नॉलेज पार्क में छोड़ कर आरोपित फरार हो गए। पुलिस के मुताबिक एक युवक छात्रा का सहपाठी है, जबकि अन्य उसके दोस्त हैं। पुलिस ने सामूहिक दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

शहर में स्थित एक सोसायटी में रहने वाली छात्रा ग्रेटर नोएडा में स्थित एक स्कूल से पढ़ती है। बीते 18 अप्रैल को उसकी स्कूल बस छूट गई थी। वह पैदल ही स्कूल से घर जा रही थी। रास्ते में कार सवार तीन युवकों ने घर छोड़ने की बात कहकर उसे कार में बैठा लिया।

इस दौरान आरोपितों ने छात्रा को कार में बंधक बना लिया। उसके हाथ और मुंह बांध दिए। इसके बाद तीनों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। दोपहर तीन बजे जब छात्रा घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की, लेकिन कुछ पता नहीं चला।

वहीं, देर रात करीब दो बजे आरोपित छात्रा को नॉलेज पार्क में गलगोटिया कॉलेज के समीप छोड़ कर फरार हो गए। वहां गश्त कर रही नॉलेज पार्क पुलिस की पीसीआर ने छात्रा को अकेला देखकर पूछताछ की तो छात्रा ने पूरी बात बताई। पुलिस ने ही छात्रा को घर छोड़ा।

वहीं, ग्रेटर नोएडा कोतवाली प्रभारी आरबी सिंह ने बताया कि छात्रा के मुताबिक आरोपित उसे सड़कों पर घुमाते रहे। तहरीर के आधार पर सामूहिक दुष्कर्म और पाक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपितों की तलाश में लगातार छापेमारी की जा रही है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें