निकाय चुनावो में कांग्रेस के 6 सीटें अधिक जीतने से बीजेपी में बेचैनी, अमित शाह करेंगे समीक्षा

भोपाल। कांग्रेस द्वारा पिछले निकाय चुनावो से 6 सीटें अधिक जीतने से बीजेपी की मुश्किलें बढ़ गयी हैं। हालाँकि बीजेपी ने सीटों के मामले में कांगेस से बाजी मार ली लेकिन आंकड़े बताते हैं कि राज्य में सीएम शिवराज सिंह से जनता बहुत खुश नहीं है।

बीजेपी ने राज्य के 43 निकायों में 26 पर सफलता हासिल की है। वहीँ पिछले निकाय चुनावो में दहाई का आंकड़ा छूने में असफल रही कांग्रेस ने 6 निकायों के इजाफे के साथ कुल 14 निकायों पर कब्जा कर लिया। वहीँ कई सीटें ऐसी हैं जहाँ कांग्रेस कुछ ही मतों के अंतर् से परास्त हुई है। निकाय चुनावो के परिणामो को बीजेपी के दिग्गज खतरे की घंटी मान रहे हैं।

सबसे अहम रतलाम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के रोड शो के बावजूद यहाँ बीजेपी को पराजय का मूँह देखना पड़ा है। किसान आंदोलन के शुरूआत की केंद्र बने मंदसौर की सभी 3 निकायों पर भाजपा को मात खानी पड़ी थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के अपने गृह जिले में भी भाजपा को हार झेलनी पड़ी है। जानकारों का कहना है कि किसान आंदोलन से शिवराज सरकार की छवि ख़राब हुई है वहीँ कांग्रेस की लोकप्रियता में बढ़ोत्तरी हुई है।

18 अगस्त से शाह मध्यप्रदेश के तीन दिवसीय दौरे पर जा रहे हैं। इस दौरान वे निकाय चुनाव परिणामो की समीक्षा करेंगे। इतना ही नहीं अमित शाह लोकसभा और विधानसभा चुनावो की तैयारी के मद्देनज़र प्रदेश के पदाधिकारियों से भी चर्चा करेंगे।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें