नतीजे आने से पहले कमलनाथ ने टटोली भावी विधायकों की नब्ज़ 

भोपाल ब्यूरो। मध्य प्रदेश में 28 नवंबर को संपन्न हुए विधानसभा चुनावो के परिणाम भले ही 11 दिसंबर को घोषित किये जायेंगे लेकिन प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ अभी से पार्टी की जीत तय मानकर चल रहे हैं।

मतगणना के दिन ईवीएम पर नज़र कैसे रखी जाए, इसकी ट्रेनिंग के बहाने कांग्रेस ने अपने सभी उम्मीदवारों को बुलाया था। इस कार्यक्रम में भाग लेने कुल 219 प्रत्याशी पहुंचे थे। 10 प्रत्याशी निजी कारणों से गैर हाजिर रहे जिसकी सूचना प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ को पहले ही दे दी गयी थी।

मतगणना की ट्रेनिंग के बहाने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने पार्टी के भावी विधायकों की नब्ज़ भी टटोल ली। कमलनाथ ने पार्टी उम्मीदवारों को हर स्थति के लिए तैयार रहने को कहा।

प्रत्याशियों की बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में कमलनाथ ने कहा कि इस बार पार्टी इतिहास लिखने जा रही है। अगले पांच दिन में मध्य प्रदेश में कांग्रेस नया इतिहास लिखेगी। कमलनाथ ने यह भी बताया कि उन्हें कई एग्जिट पोल वालो ने फ़ोन कर बताया है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस भारी जीत की तरफ है।

उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस 140 सीटें जीतेगी। कांग्रेस की तरफ से मुख्यमंत्री पद के चेहरे के सवाल पर कमलनाथ ने कहा कि “सीएम पद की जब मुझे चिंता नहीं है तो आपको क्यों चिंता है? उन्होंने चुटकी ली कि बस अब शिवराज सिंह के मुख्यमंत्री पद के अगले 3-4 दिन बचे हैं इसलिए वे जो बोलना चाहें बोलें।”

गौरतलब है कि कल तेलंगाना और राजस्थान में मतदान पूरा होने के साथ ही पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव संपन्न हो जायेंगे। सभी नतीजे 11 दिसंबर को घोषित किये जायेंगे।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें