देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई को जून तिमाही में 4876 करोड़ रुपए का घाटा

नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक को जून तिमाही में भी 4876 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। इससे पहले मार्च तिमाही में भी बैंक को 7718 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था।

शुक्रवार को बैंक ने अपने जून तिमाही के नतीजे घोषित किए हैं जिनके मुताबिक बैंक को जून तिमाही में 4876 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा हुआ है, इससे पहले मार्च तिमाही में भी बैंक को 7718 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था। पिछले साल जून तिमाही में बैंक का शुद्ध लाभ 2005.53 करोड़ रुपए था।

जून तिमाही में SBI को शुद्ध लाभ की जगह शुद्ध घाटा हुआ है लेकिन उसकी आय में भी हल्का इजाफा हुआ है, बैंक के मुताबिक जून तिमाही के दौरान कुल 65492.67 करोड़ रुपए की आय हुई है, पिछले साल जून तिमाही में 62911.08 करोड़ रुपए की आय हुई थी।

हालांकि जून तिमही के दौरान बैंक के फंसे हुए कर्ज (NPA) में कमी देखने को मिली है, SBI की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक जून तिमाही में उसका ग्रॉस NPA 2,12839.92 करोड़ रुपए दर्ज किया गया है, इससे पहले मार्च तिमाही में बैंक का ग्रॉस NPA 223427.46 करोड़ रुपए था।

SBI के खराब तिमाही नतीजों की वजह से शुक्रवार को शेयर बाजार में बैंक के शेयर में भारी उठापटक देखने को मिली, NPA में कमी को देखते हुए पहले शेयर 2 प्रतिशत से ज्यादा की तेजी के शाथ 325 रुपए के स्तर तक पहुंच गया लेकिन बाद में ऊपरी स्तर पर बिकवाली हावी हुई और शेयर फिर से घटकर 310 रुपए के नीचे आ गया।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें