दिग्विजय सिंह का सवाल: सरकार बताये कहाँ गए 2 हज़ार के नोट और एटीएम का कैश

इंदौर। हाल ही में नर्मदा यात्रा पूरी कर लौटे कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने मोदी सरकार से सवाल किया है कि मार्केट से दो हज़ार के नोट कहाँ गायब हो गए हैं तथा एटीएम में कैश क्यों नही है। 

उन्होंने कहा कि नोटबंदी के समय नरेंद्र मोदी के सभी दावे ग़लत साबित हुए हैं। केंद्र और राज्य दोनो जगह बीजेपी की सरकार है, ऐसे में बीजेपी की ज़िम्मेदारी है कि वह जनता को बताये कि एटीएम में कैश क्यों नही है।  

उन्होंने कैश की किल्लत पर सीएम शिवराज सिंह के उस बयान की कड़ी आलोचना की जिसमें उन्होने दो हज़ार के नोटों के गायब होने के पीछे किसी षड़यंत्र की आशंका जाहिर की थी। उन्होने कहा कि किसी भी प्रांत का सीएम इस हालत के लिए यदि विपक्ष पर आरोप लगाते हैं तो ये उनकी क़ाबिलियत पर सवालिया निशान हैं।

दिग्विजय सिंह ने कहा कि हर साल 10 हजार अवैध खनन की मामले दर्ज होते हैं, जिसमें 54 करोड़ का अर्थदंड वसूला जाना था लेकिन केवल 27 लाख रुपए ही वसूले गए और अवैध रेत खनन में पकड़े गए डंपरों को भी राजसात नहीं किया। उन्होंने आरोप लगाया कि बिना मुख्यमंत्री के संरक्षण के संभव नहीं है।  सीएम के गृह क्षेत्र में भी 50-50 फीट गड़डे अवैध खनन से से बन गए हैं।

उन्होंने किसानों को डिजिटल पेमेंट द्वारा पैसे देने के चलते उनमें नाराज़गी बढ़ने की बात कही।  उन्होंने सीएम शिवराज द्वारा लगाए गए 6 करोड़ से अधिक पौधे में भारी भ्रष्टाचार होने की बात कही। दिग्विजय सिंह ने कहा कि उन्हे तो बामुश्किल 60 हजार से ज्यादा पौधे दिखाई नहीं दिए।

दिग्विजय सिंह ने पीएम मोदी के पकोड़े बेचने के बयान पर  कहा कि मेरा काम सिर्फ कांग्रेस ही सरकार बनाने का होगा, कोई भी मुख्यमंत्री बने उसपर बाद में विचार करेंगे।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *