दयाशंकर को बीजेपी ने फिर बनाया उपाध्यक्ष, बसपा सुप्रीमो मायावती को कहे थे ‘घटिया शब्द’

लखनऊ ब्यूरो। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले बसपा सुप्रीमो के लिए अपमानजनक शब्दों के इस्तेमाल पर बीजेपी से बाहर किये गए दयाशंकर सिंह को भारतीय जनता पार्टी ने पुनः राज्य का उपाध्यक्ष बना दिया है।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे ने उत्तर प्रदेश का अध्यक्ष बनने के बाद कई पदाधिकारियों की न्युक्ति की घोषणा की है। शुक्रवार को की गई इस घोषणा में मुजफ्फरनगर दंगों के आरोपी सांसद संजीव बालियान का नाम भी शामिल है, जिन्हें उपाध्यक्ष पद दिया गया है।

बीजेपी के नए प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडे ने अपनी टीम में 38 लोगों को शामिल किया है जिनमे 16 प्रदेश मंत्री, 15 उपाध्यक्ष और 7 प्रदेश मंत्रियों की नियुक्ति की गई है।

दयाशंकर सिंह को विधानसभा चुनाव पूर्व पार्टी ने 6 वर्ष के लिए निष्कासित कर दिया था। हालाँकि उनकी पत्नी को विधानसभा चुनावो में उम्मीदवार बनाया गया था। दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह द्वारा विधानसभा चुनावों में जीत दर्ज करने के बाद स्वाति सिंह को यूपी महिला मोर्चा को अध्यक्ष भी नियुक्त किया गया।

बता दें कि दयाशंकर सिंह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बसपा सुप्रीमो मायावती पर टिकिट बेचने का आरोप लगाते हुए उनके लिए आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था। जिसके बाद बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्त्ता बीजेपी के खिलाफ सड़को पर उतर आये थे।

इतना ही नहीं दयाशंकर सिंह के खिलाफ मामला भी दर्ज कराया गया था। पुलिस में मामला दर्ज होने के बाद दयाशंकर सिंह कुछ दिनों तक पुलिस से छिपते रहे थे और बाद में उनकी गिरफ्तारी हो गयी थी।

Share

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें