तोगड़िया बोले ‘मैंने नहीं देखा पीएम मोदी को चाय बेचते हुए, ये सिर्फ सहानुभूति जुटाने का तरीका’

नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय हिन्दू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण भाई तोगड़िया ने एक बार फिर राम मंदिर के मुद्दे पर बीजेपी और आरएसएस की घेरबंदी की है। तोगड़िया ने कहा कि बीजेपी और आरएसएस ने देश के 125 करोड़ लोगों को अंधेरे में रखा है।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की राम मंदिर बनाने की कोई मंशा नहीं है। ये दोनों ही देश के हिन्दुओं को गुमराह कर रहे हैं।

तोगड़िया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान के बाद आये आरएसएस नेता भैय्या जी जोशी के बयान से साफ़ हो गया है कि अगले पांच साल में राम मंदिर नहीं बनेगा। इन दो समूहों (बीजेपी और आरएसएस) ने देश की 125 करोड़ जनता को अंधेरे में रखा है लेकिन अब देश का हिन्दू जाग चुका है।’

इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक तोगड़िया ने कहा कि 9 फरवरी को हिन्दुओं की नयी पार्टी का ऐलान होगा और एक बार पार्टी चुनाव जीत जाए तो अगले दिन मंदिर बन जाएगा।

प्रधानमंत्री मोदी पर टिप्पणी करते हुए तोगड़िया ने कहा कि वह तीन तलाक पर बिल लाने के लिए आधी रात को संसद चला सकते हैं लेकिन ऐसा ही राम मंदिर के मुद्दे पर नहीं करना चाहते।

तोगड़िया ने कहा कि मोदी अगर दोबारा भी चुने जाते हैं तो भी राम मंदिर नहीं बनेगा क्योंकि यह बीजेपी और आरएसएस के जीवन का आधार है। एक मुद्दा चला गया तो इन दो दलों के पास कुछ नहीं बचेगा और यह खत्म हो जाएंगे. तोगड़िया के मुताबिक इसलिए वह इस मुद्दे को बनाए रखना चाहते हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी के बचपन में चाय बेचने के दावे को सहानुभूति जुटाने का एक तरीका करार देते हुए तोगड़िया ने कहा कि उनकी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दोस्ती 43 साल से है लेकिन उन्हें कभी चाय बेचते नहीं देखा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की चाय बेचने वाली छवि केवल जनता की सहानुभूति हासिल करने के लिए है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें
Loading...