तोगड़िया को अयोध्या में नहीं घुसने देगी योगी सरकार, अयोध्या कूंच को लेकर ठनी

नई दिल्ली। अंतराष्ट्रीय हिंदू परिषद (एएचपी) के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया और उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के बीच तोगड़िया के अयोध्या कूँच को लेकर ठन गयी है।

प्रवीण तोगड़िया ने राम मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या में सरयू नदी के तट पर संकल्प कार्यक्रम के आयोजन का एलान किया था लेकिन तोगड़िया के कार्यक्रम को प्रदेश सरकार ने अनुमति नहीं दी है।

प्रवीण तोगड़िया 22 अक्टूबर को अपने समर्थको और कुछ हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ताओं के साथ अयोध्या पहुँचने वाले हैं। कार्यक्रम के मुताबिक तोगड़िया को अयोध्या कूंच के बाद 22 और 23 अक्टूबर को राम मंदिर निर्माण के लिए आयोजित संकल्प कार्यक्रम में शामिल होना है।

प्रवीण तोगड़िया अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर 22 अक्टूबर को सरयू किनारे 24 घंटे के लिए धरना देने वाले हैं, जबकि 23 अक्टूबर को रामचंद्र परमहंस की समाधि पर राम मंदिर निर्माण संकल्प सभा होनी है।

वहीँ फ़ैज़ाबाद के रेजिडेंट मजिस्ट्रेट ने प्रवीण तोगड़िया के कार्यक्रम को अनुमति देने से इंकार कर दिया है। प्रशासन ने न सिर्फ तोगड़िया के अयोध्या कूच पर रोक लगा दी है बल्कि अब उस इलाके में धारा 144 भी लागू करने का फैसला किया गया है।

गौरतलब है कि अंतराष्ट्रीय हिन्दू परिषद 21 अक्टूबर को प्रवीण तोगड़िया के नेतृत्व में लखनऊ से अयोध्या कूच कार्यक्रम की शुरुआत करेगी। सभी कार्यकर्ता लखनऊ से बाराबंकी तक पैदल पहुंचेंगे, फिर यहां से ये कार्यकर्ता गाड़ियों के जरिये 22 की सुबह को अयोध्या पहुंचेंगे।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें