तृणमूल कांग्रेस का अमित शाह को अल्टीमेटम: 72 घंटे में मांगे माफ़ी

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के दौरे पर गए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आज कोलकाता में एक रैली को सम्बोधित किया था। अपने सम्बोधन के दौरान बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आरोप लगाया था कि बांग्लादेशी घुसपैठियों की वजह ममता बनर्जी हैं।

अमित शाह ने यह भी कहा कि ममता बनर्जी इसलिए एनआरसी का विरोध कर रही हैं क्योंकि घुसपैठिए तृणमूल कांग्रेस का वोट बैंक हैं। अमित शाह ने यह भी दावा किया कि उनकी पार्टी बांग्ला विरोधी नहीं बल्कि टीएमसी विरोधी है।

अमित शाह के बयान पर तृणमूल कांग्रेस ने कड़ा रुख दिखाते हुए बीजेपी अध्यक्ष से 72 घंटो के अंदर माफ़ी तलब की है। ऐसे में टीएमसी नेता डेरेक ओ ब्रायन ने उकहा कि अमित शाह बंगाल की संस्कृति नहीं जानते।

उन्होंने कहा कि अमित शाह ने जो कुछ भी कहा है वो बंगालियों का अपमान है। उन्होंने अमित शाह की रैली को फ्लॉप बताते हुए उन्हें माफी मांगने का अल्टीमेटम दे डाला है। डेरेक ने शाह को माफी मांगने के लिए मात्र 72 घंटे की मोहलत दी है।

इससे पहले अमित शाह ने रैली में अपने सम्बोधन के दौरान तृणमूल कांग्रेस सरकार और ममता बनर्जी पर बड़े आरोप लगाए। अमित शाह ने बंगाल में क्रांति लाने की बात कहते हुए परिवर्तन लाने का भरोसा दिया।

उन्होंने संगीन आरोप लगाते हुए कहा कि ‘कार्यकर्ताओं की हत्या करके कोई बच नहीं सकता है। ममता बनर्जी आप वामपंथियों का शासन याद कर लीजिए। मैं यहां आए लोगों से अपील करता हूं कि यहां से टीएमसी को उखाड़ फेंकना है।’

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें