झारखंड: मोब लीचिंग के सभी 8 दोषियों को उम्र कैद की सजा

रांची। झारखंड के बालूमाथ मॉब लिंचिंग मामले में लातेर की एक अदालत से सभी आठ दोषियों को उम्र कैद की सजा और 25-25 हज़ार जुर्माने का एलान किया है।

आज जिन आठ दोषियों को सजा सुनाई गयी उनमे अरुण साव, प्रमोद साव, शाहदेव सोनी, मिथिलेश साहू, अवधेश साव, मनोज साहू, मनोज कुमार साव व विशाल तिवारी शामिल हैं।

17 मार्च 2016 को बालूमाथ थानाक्षेत्र के झाबर गांव में दो पशु व्यापारियों जलूम अंसारी (35 वर्ष) और छोटू उर्फ इम्तियाज (18 वर्ष) की हत्या कर उनके शव को पेड़ से लटका दिया गया था।

मजलूम अंसारी हेरहंज थाना क्षेत्र के नवादा का और इम्तियाज खान आराहरा का रहनेवाला था और दोनों ही दूध देने वाले पशुओं की खरीद फरोख्त का कारोबार करते थे।

इस मामले में आठ लोगों को आरोपी बनाया गया था। पुलिस में 8 मार्च को ही 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था जबकि तीन आरोपी ने बाद में 22 मार्च को सरेंडर किया था।

कोर्ट में इस मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट ने सभी आठ लोगों को इस मामले में दोषी माना। जिसके बाद सभी आरोपियों को न्यायिक हिरासत में लेकर जेल भेज दिया गया था।

कोर्ट ने आज इस मामले में फैसला सुनाते हुए सभी आठ दोषियों को ताउम्र कैद और पच्चीस पच्चीस हज़ार का जुर्माना भरने का एलान किया है। गौरतलब है कि झारखण्ड में मोब लीचिंग के एक और मामले में रामगढ में एक मुस्लिम मीट कारोबारी की भी पीट पीट कर हत्या कर दी गयी थी।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें