जाट आंदोलन में नेताओं ने भड़काई थी हिंसा, भाजपा सांसद और विधायक पर शक

Jat-Andolan

चंडीगढ़ । हरियाणा में जाट आंदोलन के दौरान हुई हिंसा की जांच के लिए बनी प्रकाश कमेटी की रिपोर्ट मंगलवार को सार्वजनिक कर दी गई। रिपोर्ट के मुताबिक जाट आंदोलन को तीन नेताओं ने अपने बयानों से भड़काया था। इसके अलावा पुलिस-प्रशासन के आला अधिकारियों ने भी ड्यूटी नहीं निभाई।

हालांकि रिपोर्ट का अंतिम एवं महत्वपूर्ण हिस्सा सार्वजनिक नहीं किया गया है। रिपोर्ट में कुरुक्षेत्र के भाजपा सांसद राजकुमार सैनी, हिसार से इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला और भाजपा के पूर्व विधायक रोशनलाल आर्य के भड़काऊ बयानों को जिम्मेदार बताया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि राज्य में हिंसा की भूमिका पहले ही तैयार हो चुकी थी। प्रदेश के नेताओं ने इस बाबत 2015 से ही बयानबाजी शुरू कर दी थी। सूबे का खुफिया तंत्र पूरी तरह विफल रहा। नेताओं के भाषणों को गंभीरता से नहीं लिया।

इन पर उठी उंगली
राजकुमार सैनी : भाजपा सांसद ने जाटों के खिलाफ अभद्र शब्द बोले
दुष्यंत चौटाला : इनेलो सांसद ने जाटों को लामबंद करने के लिए बेहद भड़काऊ भाषण दिया
रोशनलाल आर्य : भाजपा के पूर्व विधायक ने गैर जाटों को जाटों के खिलाफ शपथ दिलाई

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें