छत्तीसगढ़: कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में किसानो से किया ये बड़ा वादा

रायपुर। छत्तीसगढ़ में होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने आज अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है। इस घोषणा पत्र में कई अहम वादे किये गए हैं। किसानो से खासतौर पर वादा किया गया है कि यदि राज्य में कांग्रेस की सरकार बनी तो स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट के आधार पर विभिन्न फसलों पर एमएसपी तय किया जायेगा।

इतना ही नहीं घोषणा पत्र में साफ़ तौर पर कहा गया है कि राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के दस दिनों के अंदर किसानो के कर्ज माफ़ कर दिए जायेंगे। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में चावल का न्यूनतम समर्थन मूल्य 2500 रुपए और मक्के का समर्थन मूल्य 1700 रुपए तय किया है।

इसके अलावा घोषणा पत्र में घरेलू बिजली बिल की दर को आधा करने, शहरी और ग्रामीण परिवारों को आवास सुरक्षा, सभी वर्ग के लोगों को 1 रुपए प्रति किलो की दर से प्रतिमाह 35 किलो चावल देने, राजीव मित्र योजना के तहत 10 लाख बेरोजगार युवाओं को मासिक अनुदान देने का प्रावधान किया गया है।

घोषणा पत्र में किये गए अहम वादे:

1. सरकार गठन के 10 दिन के भीतर किसानों के लिए तत्काल ऋण छूट।

2. 60 वर्ष से अधिक उम्र के किसानों के लिए पेंशन का प्रावधान।

3. स्वामीनाथन कमीशन की रिपोर्ट के मुताबिक न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी एमएसपी को लागू करना। चावल के लिए 2500 प्रति क्विंटल और मक्का के लिए 1700 रुपये प्रति क्विंटल एमएसपी।

4.घरेलू उपभोग के लिए इस्तेमाल की जाने वाली बिजली की दरें आधा करना। शहरी क्षेत्रों में रह रहे लोगों के लिए घर और ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे लोगों के लिए जमीन का वादा।

5. हर परिवार को हर महीने एक रुपये प्रति किलो की दर पर 35 किलो चावल का वादा।

6. घर घर रोजगार, हर घर रोजगार के तहत रोजगार पर झुकाव, वित्तीय सहायता के लिए ‘राजीव मित्र योजना’ के तहत 10 लाख बेरोजगार युवाओं को मासिक अनुदान का प्रावधान।

7. महिला सुरक्षा के लिए विशेष महिला थाने, हर थाने में महिला सेल।

8. अल्पसंख्यक समुदायों और उनके हितों के लिए उनकी सुरक्षा, नौकरी के अवसरों और व्यापार करने में आसानी के लिए विशेष सहायता के प्रस्ताव।

9. 70-85 वन फसलों पर एमएसपी में वृद्धि और तेंदू पत्ता श्रमिकों के लिए 4000 रुपये प्रति बैग। दैनिक मजदूरी मजदूरों के लिए एक सम्मानजनक आय।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें