गोरखपुर: बीआरडी अस्पताल प्रशासन ने स्वीकारा “48 घंटो में 42 बच्चो की हुई मौत”

गोरखपुर। बच्चो के लिए मौतगाह साबित हो रहे गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में बच्चो की मौत का सिलसिला जारी है। इस बीच मंगलवार को बीआरडी मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य पी के सिंह ने बीआरडी अस्पताल में पिछले 48 घंटो में 42 बच्चो मौत की खबर की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि इनमे 7 बच्चो की मौत इंसेफेलाइटिस से हुई है वहीँ अन्य बच्चो की मौत अन्य बीमारियों की वजह से हुई।

जानकारी के मुताबिक सबसे ज्यादा मौतें नवजात शिशु गहन चिकित्सा कक्ष (एनआईसीयू) में हुई। इस वार्ड में 119 नवजात भर्ती थे। दो दिनों में एनआईसीयू में 16 नवजातों की मौत हुई। सोमवार को एनआईसीयू में 10 बच्चों की मौत हुई। रविवार को छह नवजातों ने दम तोड़ दिया।

बाल रोग विभाग में नवजातों के अलावा 225 मरीजों का इलाज हो रहा है। इनमें से इंसेफेलाइटिस के 106 मरीज भी शामिल हैं। बीते दो दिनों में इस वार्ड में 26 मासूमों ने दम तोड़ दिया। सोमवार को 15 मासूमों की मौत हुई और रविवार को 11 ने दम तोड़ दिया। इनमें इंसेफेलाइटिस के मरीज भी शामिल हैं।

इंसेफेलाइटिस से बीते 24 घंटे में चार मासूमों की मौत हो गई। रविवार को सात मरीजों की मौत हुई थी। मरने वालों में संतकबीर नगर की ममता, बलिया की श्वेता, कुशीनगर का प्रवीन और महराजगगंज के रितेश का नाम शामिल है। इस बीमारी के कारण इस वर्ष अब तक 179 मरीजों की मौत बीआरडी में हो चुकी है। इस बीमारी के कारण 724 मरीज भर्ती हुए। जिनमें से 106 का इलाज चल रहा है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *