गोपीनाथ मुंडे की मौत पर उनके भतीजे ने उठाये सवाल, जांच की मांग

मुंबई। लंदन में अमेरिकी साइबर एक्सपर्ट द्वारा ईवीएम हैकिंग को लेकर किये गए सनसनीखेज खुलासे के बाद देश की राजनीति में भूचाल आ गया है।

साइवर एक्सपर्ट सैयद शुजा द्वारा 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी द्वारा ईवीएम टेम्परिंग के ज़रिये जीत दर्ज करने के खुलासे के बाद जहाँ चुनाव आयोग ने इसे ख़ारिज कर दिया है वहीँ विपक्ष ने ईवीएम की जगह वैलेट पेपर से चुनाव कराये जाने की अपनी मांग को एकबार फिर उठाया है।

लंदन में चल रहे हैकथॉन कार्यक्रम में भारतीय मूल के अमेरिकी साइबर एक्पसर्ट सैयद शुजा ने यह भी खुलासा किया कि महाराष्ट्र के बीजेपी नेता गोपीनाथ मूंडे ने उनकी टीम से 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के पक्ष में ईवीएम हैक करने के लिए सम्पर्क किया था।

साइवर एक्सपर्ट ने दावा किया कि गोपीनाथ मूंडे की सड़क हादसे में मौत सामान्य नहीं थी बल्कि उनकी हत्या हुई थी। शुजा के मुताबिक गोपीनाथ मूंडे ईवीएम हैकिंग के बारे में जानकारी रखते थे इसलिए उनकी हत्या हुई थी।

साइवर एक्सपर्ट के इस खुलासे के बाद देश की राजनीति में बड़ा भूचाल आने की स्थति पैदा हो गयी है। साइवर एक्सपर्ट के खुलासे के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुंडे की मौत को लेकर हैकर के दावों पर उनके भतीजे और एनसीपी नेता धनंजय मुंडे ने जांच की मांग की है।

भाजपा नेता के भतीजे धनंजय मुंडे ने मामले की जांच रॉ या उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश से कराने की मांग की। महाराष्ट्र विधान परिषद में विपक्ष के नेता मुंडे ने अमेरिका में रह रहे भारतीय स्वयंभू साइबर विशेषज्ञ के दावे पर हैरानी जताई।

उन्होंने कहा कि गोपीनाथ मुंडे से प्रेम करने वालों ने उनकी मृत्यु पर हमेशा सवाल उठाया है। उन्होंने पूछा है कि यह दुर्घटना थी या कोई साजिश। उन्होंने ट्वीट किया है, एक साइबर विशेषज्ञ ने सनसनीखेज दावा किया है कि गोपीनाथ राव मुंडे साहेब की हत्या की गई। इन दावों की तुरंत रॉ/उच्चतम न्यायालय से जांच कराने की जरूरत है क्योंकि यह एक जननेता से जुड़े हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें