क्रिसमस न मनाने देने की धमकी देने वाले पुलिस के भय से भूमिगत

अलीगढ़। स्कूलों में क्रिसमस का पर्व न मनाये जाने की चेतावनी देने वाले अलीगढ के हिन्दू संगठनों के लोग पुलिस के भय से रातो रात गायब हो गए। इससे पहले हिन्दू जागरण मंच सहित हिन्दू संगठनों से जुड़े लोगों ने स्कूलों में क्रिसमस न मानये जाने के लिए धमकी दी थी।

हिन्दू संगठनों की धमकी के बाद इस मामले में अविभावक संघ तथा कुछ स्कूलों के मैनेजमेंट से पुलिस को अपनी पीड़ा बताई थी। स्कूल शिक्षकों का कहना था कि शिक्षा का मतलब यही होता है कि बच्चा अपने धर्म के अलावा दूसरे धर्मो के बारे में भी जानकारी हासिल करे। शिक्षकों ने हिन्दू संगठनों से जुड़े नेताओं द्वारा दी गयी धमकी पर नाराज़गी ज़ाहिर की वहीँ अविभावको ने बच्चो की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई।

पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी राजेश पांडे ने स्कूलों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हर सम्भव कदम उठाये जाने का आश्वासन दिया। इस मामले में पांच नेताओं को प्रशासन द्वारा नोटिस दिया गया। इसके बाद पुलिस का दबाव बढ़ा तो हिन्दू संगठनों में आपस में ही फूट पड़ती दिखी।

स्कूलों में क्रिसमस मनाये जाने का विरोध करने वाले ही अपने कहे से यूटर्न लेने लगे और 24 दिसंबर को रात्रि में हिन्दू संगठनों से जुड़े कई नेताओं ने अपने ठिकाने बदल लिए।

सूत्रों की माने तो गिरफ्तारी के भय से कई हिंदूवादी नेताओं ने एक दिन के लिए अलीगढ से कुछ कर दिया है और वे अज्ञात स्थानों पर जाकर छिप गए गए हैं। खबर लिखे जाने तक शहर का माहौल शांतिपूर्ण है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *