कैराना और नूरपुर में आज होगा मतदान, परिणाम तय करेगा योगी सरकार का रिपोर्ट कार्ड

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की कैराना लोकसभा तथा नूरपुर विधानसभा सीटों के लिए हो रहे उपचुनाव के लिए आज मतदान होगा। 2014 में कैराना लोकसभा सीट बीजेपी ने जीती थी लेकिन उसके सांसद हुकुम सिंह के आकस्मित निधन के कारण यह सीट रिक्त हुई है।

वहीँ 2017 के विधानसभा चुनाव में नूरपुर सीट पर भी बीजेपी ने चुनाव जीता था लेकिन बीजेपी विधायक लोकेन्द्र सिंह की सड़क दुर्घटना में मौत के कारण इस सीट रिक्त हुई है।

बीजेपी ने कैराना लोकसभा सीट पर पूर्व सांसद हुकुम सिंह की बेटी मृगांका सिंह को उम्मीदवार बनाया है। वहीँ इस सीट पर रालोद उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रही तबस्सुम हसन को कांग्रेस, सपा, बसपा तथा आम आदमी पार्टी का समर्थन प्राप्त है।

वहीँ नूरपुर विधानसभा सीट पर बीजेपी ने पूर्व विधायक लोकेन्द्र सिंह की पत्नी अवनि सिंह को उम्मीदवार बनाया है। वहीँ दूसरी तरफ इस सीट पर सपा उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे नईमूल हसन को बसपा और कांग्रेस का समर्थन प्राप्त है।

आज होने वाले मतदान के लिए चुनाव आयोग ने व्यापक प्रवन्ध किये हैं। मतदान शांतिपूर्वक तरीके से कराने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स सहित अन्य फ़ोर्स को भी मतदान स्थल पर लगाया गया है। सोमवार को होने वाले मतदान में 3 लाख 6 हजार 2 सौ 26 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

आज होने जा रहे चुनाव को उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ की प्रतिष्ठा का प्रश्न बताया जा रहा है। इससे पहले बीजेपी राज्य में दो महत्वपूर्ण सीटें फूलपुर और गोरखपुर हार चुकी है।

यदि कैराना और नूरपुर में भी बीजेपी की हार होती है तो निश्चित रूप से यह सीएम योगी आदित्यनाथ के लिए एक बड़ी चुनौती होगी। उपचुनावों में बीजेपी की लगातार हार के बाद पार्टी नेतृत्व को एक बार सोचने पर मजबूर होना पड़ेगा और हार का विश्लेषण करना पड़ेगा।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें