केन्द्रीय मंत्री रामदास आठवले बोले ‘ गौरक्षा के नाम पर मानव हत्या ठीक नहीं’

नई दिल्ली । गौरक्षा के नाम पर दलितों के साथ मारपीट की घटना की निंदा करते हुए केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं सशक्तिकरण राज्य मंत्री और दलित नेता रामदास आठवले ने गौरक्षकों को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा कि गौरक्षा के नाम पर मानव की हत्या करना उनको ठीक नहीं लगता है। गौरक्षा के साथ-साथ मानव रक्षा भी करनी चाहिए।

एक अखबार को दिए साक्षात्कार में राजग के सहयोगी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के अध्यक्ष आठवले ने दलितों से बौद्ध धर्म अपनाने को कहा। साथ ही उन्होंने सवाल किया कि बसपा प्रमुख मायावती ने ऐसा अब तक क्यों नहीं किया।

गुजरात के उना की घटना को गंभीर बताते हुए उन्होंने कहा कि वह गौरक्षकों से कहना चाहते हैं कि गौ हत्या को रोकने के लिए कानून है, आप लगातार गौरक्षा कर रहे हैं लेकिन मानव हत्या क्यों? अगर आप गौरक्षा कर रहे हैं तो मानव रक्षा कौन करेगा?

उन्होंने मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर मायावती खुद को अंबेडकर का अनुयायी बताती हैं तो उन्होंने अब तक बौद्ध धर्म क्यों नहीं अपनाया? वह लगातार मनुवाद की आलोचना करती हैं और धर्मांतरण की बात करती हैं लेकिन खुद बौद्ध धर्म नहीं अपनाया। उन्होंने अपने धर्मांतरण के बारे में कई बार घोषणा की लेकिन अभी भी हिन्दू हैं। उन्होंने कहा कि दलितों को बौद्ध धर्म स्वीकार कर लेना चाहिए।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें