केंद्रीय मंत्री की बदज़ुबानी: पीएम की लोकप्रियता के साथ बढ़ रही है ‘मॉब लिचिंग’

नई दिल्ली। राजस्थान के अलवर में गौ तस्करी के शक में कथित गौ रक्षको द्वारा पचास वर्षीय अकबर खान की पीट पीट कर हत्या किये जाने की घटना की जहाँ कई राजनैतिक दलों के नेताओं और राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे सिंधिया ने निंदा की है। वहीँ केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने मॉब लिचिंग की घटना को पीएम मोदी की लोकप्रियता से जोड़ दिया।

केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘वह इस घटना की निंदा करते हैं, मगर यह सिर्फ अकेली घटना नहीं है। हमें इसके इतिहास में जाना होगा। यह क्यों हो रहा है? कौन इसे रोकेगा? 1984 का सिख दंगा इतिहास की सबसे बड़ी ‘मॉब लिंचिंग’ थी।’

संसदीय कार्य राज्य मंत्री और जल संसाधान राज्य मंत्री मेघवाल ने कहा, ‘जैसे-जैसे मोदी जी लोकप्रिय होते जाएंगे ऐसी घटनाएं बढ़ेंगी। बिहार में चुनाव के समय ‘अवॉर्ड वापसी’, उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में ‘मॉब लिंचिंग’ और 2019 में कुछ और होगा। मोदी जी ने योजनाएं दीं और उसका असर दिख रहा है। ये उसकी एक प्रतिक्रिया है।’

वहीँ दूसरी तरफ केंद्रीय राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा, ‘यह घटना निंदनीय है. हमारे समाज और देश में इस किस्म की घटना के लिए कोई जगह नहीं है। यह सभी को साफ होना चाहिए और जो लोग इसके लिए जिम्मेदार हैं उनके खिलाफ फौरन कार्रवाई होनी चाहिए।’

बता दें कि 50 वर्षीय अकबर खान हरियाणा के अपने गाँव कोलगांव से दो गाय लेकर अलवर के रामगढ़ लालमंड़ी जा रहा था। इस दौरान कथित गौ रक्षको ने उसे घेर लिया।

गौरक्षको ने फोन करके अन्य कई लोगों को भी बुला लिया और अकबर खान की पीट पीट कर हत्या कर दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर अलवर सरकारी अस्पताल भेज दिया है और मामले की छानबीन कर रही है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें