कुदरत के आगे अमित शाह विवश, कई रैलियां करनी पड़ी रद्द

अहमदाबाद। गुजरात में पहले चरण का चुनाव 9 दिसंबर को होना है। पहले चरण के चुनाव के लिए 7 दिसंबर को चुनाव प्रचार का काम थम जाएगा। ऐसे में कांग्रेस और बीजेपी ने चुनाव प्रचार में अपनी पूरी ताकत झौंक रखी है।

ओखी के आज रात तूफानी हवाओं के साथ तटीय गुजरात पहुंचने की आशंका है। इससे राज्य में अगले दो दिन में कई हिस्सों में भारी बारिश होने की आशंका के मद्देनज़र भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह की कई सभाओं को रद्द करना पड़ा है।

मौसम विभाग ने कहा, ‘‘वलसाड, सूरत, नवसारी, भरुच, डांग, तापी, अमरेली, गिर सोमनाथ और भावनगर जिलों में आज भारी बारिश हो सकती है। इस आशंका के चलते भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह की गुजरात के राजुला, महुवा, शिहोर में होने वाली रैलियां रद्द की गयी हैं।

गौरतलब है कि पाटीदार नेता हार्दिक पटेल द्वारा कांग्रेस को समर्थन के एलान के बाद बीजेपी ने पूरी ताकत दक्षिण गुजरात में झौंक दी थी। स्वयं पार्टी अध्यक्ष अमित शाह कई बार सूरत आये और रात्रि में भी रुके।

इतना ही नहीं भारतीय जनता पार्टी ने कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों, केंद्रीय मंत्रियों, पार्टी सांसदों और विधायकों को गुजरात चुनाव प्रचार में उतार रखा है। गुजरात चुनावो को प्रतिष्ठा का प्रश्न बना चुकी भारतीय जनता पार्टी राज्य में सत्ता में वापसी के लिए पूरा प्रयास कर रही है। स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दो दिन में कई सभाओं को सम्बोधित की हैं।

फ़िलहाल दक्षिण गुजरात के इलाके में अगले दो-तीन दिन तक किसी पार्टी की सभाएं होने की संभावना नहीं दिखाई दे रही। मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण तट पर तबाही मचाने के बाद चक्रवात ओखी कल शाम मुंबई पहुंच गया। मुंबई में कल बारिश हुई है, मौसम विभाग के अनुसार आज भी बारिश हो सकती है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें