कासगंज हिंसा का एक और वीडियो आया सामने: तिरंगा हाथ में लिए गोलियां चला रहे युवा

नई दिल्ली। उत्‍तर प्रदेश के कासगंज हुई हिंसा का एक और ताजा वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में हिन्दू युवाओं की एक पूरी टोली हाथ में तिरंगा लिए गोलियां चलाती दिखाई दे रही है। पुलिस कासगंज हिंसा के इस ताजा वीडियो की जांच कर रही है।

दावा है कि यह वीडियो 26 जनवरी की सुबह का है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इस वीडियो को स्‍थानीय तहसील कार्यालय की छत से शूट किया गया है। वीडियो में लड़कों के हाथ में तिरंगे के अलावा लाठी-डंडे दिख रहे हैं। वीडियो के कुछ हिस्‍से में गोली चलने की आवाजें सुनाई दे रही हैं।

टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस इस वीडियो के सामने आने के बाद नए एंगल से पूरी हिंसा की जांच कर रही है। कासगंज में गणतंत्र दिवस पर एक युवक की हत्या होने के बाद हिंसा फैल गई थी। युवक की हत्या के बाद आक्रोशित भीड़ ने तीन दुकानों, दो बसों और एक कार में आग लगा दी थी। जिला प्रशासन ने कहा कि उसने जिले में तनाव कम करने के लिए कई कदम उठाए। राज्य सरकार ने जिले के पुलिस अधीक्षक को हटा दिया है।

वीडियो में गोली चलने की आवाज साफ सुनी जा सकती है। टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार नाम न छापने की शर्त पर एक वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी ने टीओआई से कहा, ”यह (वीडियो में दिख रही) वही जगह है जहां चंदन गुप्‍ता को गोली मारी गई थी।”

अखबार ने पुलिस सूत्रों के हवाले से लिखा है कि ”वहां 50 से ज्‍यादा युवा थे और उनमें से एक के हाथ में भारतीय ध्‍वज था। कम से कम दो के पास रिवॉल्‍वर थी और बाकी लाठियों से लैस थे। कुछ लोग मुस्लिम आबादी वाले इलाकों की तरफ पत्‍थर चला रहे थे।”

वहीँ दूसरी तरफ गृह मंत्रालय के नियंत्रण कक्ष के आंकड़ों के अनुसार हिंसा के आरोप में 118 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि किसी अप्रिय स्थिति से बचने के लिए जिले के संवेदनशील स्थानों पर पुलिस के अलावा दंगारोधी द्रुत कार्य बल को भी तैनात किया गया है।

 

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें