कांग्रेस में शामिल हुए शत्रुघ्न सिन्हा, कांग्रेस ज्वाइन करने पर कही ये बड़ी बात

नई दिल्ली। पटना साहिब से बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा आज कांग्रेस में शामिल हो गए। शत्रुघ्न सिन्हा 28 मार्च में कांग्रेस में शामिल होने वाले थे लेकिन उन्होंने नवरात्रि में पार्टी ज्वाइन करने की बात कह कर अपनी जोइनिंग 06 अप्रेल तक के लिए आगे बढ़ा दी थी।

शत्रुघ्न सिन्हा ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के 39वें स्थापना दिवस के दिन पार्टी को अलविदा कहते हुए कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि देश के निर्माण में कांग्रेस का बड़ा योगदान. दुख हो रहा है कि बीजेपी के स्थापना दिवस पर पार्टी छोड़ रहा हूं।

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि बीजेपी ने अपने नेताओं की कद्र नहीं की. पहले ऊपर से काटना शुरू किया। अटल जी के करीबी जसवंत सिंह के साथ क्या किया, अरुण शौरी के साथ क्या हुआ, यशवंत सिन्हा के साथ क्या किया, मुरली मनोहर जोशी के साथ क्या किया। यशवंत सिन्हा को इतना मजबूर किया कि उन्होंने बीजेपी ही छोड़ दी। उन्होंने कहा कि लालकृष्ण आडवाणी ने ब्लॉग लिखा, सोचिए उनके अंदर कितना दर्द होगा।

शत्रुघ्न सिन्हा ने नोट बंदी पर पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि नोटबंदी में प्रचार के लिए अपनी माता जी को लाइन में लगा दिया, कौन मानेगा, ये सब क्या ढकोसला नहीं था। उन्होंने नोट बंदी को विश्व का सबसे बड़ा घोटाला बताते हुए कहा कि नोटबंदी से प्रभावित होकर कई लोगों की मौत भी हो गई।

शत्रुघ्न सिन्हा यहीं नहीं रुके, उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की तारीफ़ करते हुए कहा कि इंदिरा गांधी जैसा प्रधानमंत्री न हुआ और न होगा। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी ने भी इंदिरा गांधी की तुलना दुर्गा से की थी।

जीएसटी को लेकर भी शत्रुघ्न सिन्हा ने पीएम नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला बोला। उन्होंने कहा कि जीएसटी से सबसे ज्यादा फायदा चार्टर्ड अकाउंटेडेंट को हुआ। उन्होंने कहा कि जीएसटी जैसे महत्वपूर्ण मुद्दे पर भी पूर्व पीएम डा मनमोहन सिंह से सलाह नहीं ली गयी।

एक सवाल के जबाव में शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि बीजेपी वन मैन शो और टू मैन आर्मी बनकर रह गई है। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी दूर की बात, एक को छोड़ दूसरा स्मार्ट मैन ही दिखा दें बीजेपी में।

इस अवसर पर शत्रुघ्न सिन्हा के साथ कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, बिहार कांग्रेस के प्रभारी शक्तिसिंह गोहिल, पार्टी के वरिष्ठ नेता के सी वेणुगोपाल मौजूद थे।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें