कांग्रेस ने की संविधान बदलने की बात करने वाले केंद्रीय मंत्री की बर्खास्तगी की मांग

नई दिल्ली। कांग्रेस ने केंद्रीय मंत्री अनंत हेगड़े की बर्खास्तगी की मांग की है। अनंत हेगड़े ने हाल ही में कोप्पल जिले में एक कार्यक्रम में कहा था कि जो लोग खुद को धर्मनिरपेक्ष और बुद्धिजीवी मानते हैं उनकी अपनी कोई पहचान नहीं होती और वे अपनी जड़ों से अनजान होते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी संविधान को बदलने के लिए सत्ता में आई है।

अनंत हेगड़े की बर्खास्तगी की मांग को लेकर आज संसद के दोनो सदनों में भी बड़ा हंगामा हुआ। जिसके बाद दोनों सदनों को कुछ देर के लिए स्थगित कर दिया गया और इसके बाद इसी मुद्दे पर सदन में हंगामा देखा गया। विपक्षी सांसद ‘मंत्री को बर्खास्त करो’ के नारे लगा रहे थे।

राज्यसभा में विपक्ष के नेता ग़ुलाम नबी आज़ाद ने इस मामले को उठाते हुए कहा कि अगर किसी शख़्स को संविधान पर विश्वास नहीं है तो उसे संसद सदस्य होने का कोई अधिकार नहीं है। कांग्रेस के सदस्यों ने प्रश्नकाल शुरू होते ही आसन के समीप आकर हेगड़े के बयान के विरोध में नारेबाजी शुरू कर दी।अनंत हेगड़े इससे पहले भी विवादों के घेरे में रहे हैं।

इससे पहले पूर्वाह्न 11 बजे लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने जैसे ही प्रश्नकाल आरंभ कराया, वैसे ही शिवसेना के कुछ सदस्यों ने ‘पाकिस्तान मुर्दाबाद’ के नारे लगाये जिनका साथ भाजपा के कुछ सदस्यों ने भी दिया।

ये सदस्य कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी के साथ पाकिस्तान में दुर्व्यवहार की खबरों की पृष्ठभूमि में नारेबाजी कर रहे थे। उधर तेलंगाना से टीआरएस के सदस्य अपने राज्य में अलग उच्च न्यायालय की मांग को लेकर आसन के समीप आकर नारे लगा रहे थे।

लोकसभा अध्यक्ष ने हंगामे के बीच ही प्रश्नकाल चलाने का प्रयास किया और ‘मेंटर इंडिया’ अभियान से संबंधित सदस्यों के प्रश्न पर केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने जवाब भी दिया।

बता दें कि सोमवार को पाकिस्तान में कुलभूषण जाधव के साथ उनके परिवार की हुई मुलाक़ात के मुद्दे पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज कल संसद के दोनों सदनों में बयान देंगी. प्राप्त जानकारी के मुताबिक़ सुबह 11 बजे से पहले राज्यसभा में बोलेंगे और फिर 12 बजे लोक सभा में बोलेंगी।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें